राजनीति16 करोड़ खर्च कर किसानों की कर्जमाफी का सर्टिफिकेट बांटेगी योगी सरकार

राजनीति16 करोड़ खर्च कर किसानों की कर्जमाफी का सर्टिफिकेट बांटेगी योगी सरकार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में सरकार बनाने से पहले बीजेपी ने वादा किया था कि अगर उनकी सरकार बनती है तो वे किसानों का कर्ज माफ करेंगे। बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने वादा किया था कि अगर उनकी सरकार बनी तो वे किसानों का एक लाख तक का कर्ज माफ करेंगी। लोगों को लगा कि भाजपा शायद सारा कर्ज माफ करेगी लेकिन शब्दों के सहारे जनता को गोलमोल घुमाने वाली बीजेपी बीजेपी पूर्ण बहुमत से सत्ता में आ गई। बाद में बीजेपी ने सिर्फ एक लाख का कर्ज माफ करने का ऐलान किया तो किसानों को अपने साथ हुई धोखाधड़ी का एहसास हुआ।

अब खबर आ रही है कि काम से ज्यादा प्रचार पर जोर देने वाली बीजेपी सरकार यूपी के किसानों का कर्ज माफ करने के लिए 16 करोड़ रुपये खर्च करेगी। चीफ सेक्रेटरी द्वारा जारी आदेश के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ द्वारा 5 सितंबर से किसानों को कर्जमाफी सर्टिफिकेट बांटे जाएंगे।

अब इसका खर्चा जान लीजिए…
जिस कैंप में योगी आदित्य नाथ 5 हजार किसानों को सर्टिफिकेट बांटेंगे जिसमें 10 लाख रुपए का खर्चा होगा। प्रत्येक तहसील में 2 हजार किसानों को सर्टिफिकेट बांटे जाएंगे जिसमें ढाई लाख रुपए का खर्चा आएगा। यूपी सरकार का कहना है कि कर्जमाफी की राशी की तुलना में कैंप में लगने वाली राशी बहुत ही मामूली सी है।

यूपी सरकार सूबे के 75 जिलों और 332 तहसील में कैंप का आयोजन करेगी जिसमें किसानों को कर्जमाफी के सर्टिफिकेट बांटे जाएंगे। यूपी सरकार 86 लाख किसानों का 36 करोड़ रुपए का कर्जमाफ कर रही है। सूबे में किसानों को कर्जमाफी सर्टिफिकेट बांटने का काम पिछले हफ्ते लखनऊ से शुरु हो गया है जहां पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने 11 हजार किसानों को सर्टिफिकेट बांटे जिसमें 35 लाख रुपए का खर्चा हुआ था।

आपको बता दें कि भाजपा काम से ज्यादा उसका प्रचार करने पर जोर देने के कारण चर्चाओं में रहती है। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विज्ञापनों को लेकर अकसर सुर्खियों में रहते हैं। अभी हाल ही में पार्टियों के चंदे के बारे में रिपोर्ट आई थी जिसमें सामने आया कि भ्रष्टाचार रोकने की बात करने वाली भाजपा ने बगैर पैन और आधार कार्ड के ही सबसे ज्यादा चंदा लिया।

Courtesy: nationaldastak.

Categories: Politics

Related Articles