5 सितंबर से शुरू हो जाएगी लखनऊ मेट्रो, अगले हफ्ते से आॅनलाइन बनेंगे कार्ड

5 सितंबर से शुरू हो जाएगी लखनऊ मेट्रो, अगले हफ्ते से आॅनलाइन बनेंगे कार्ड
लखनऊ. लखनऊ मेट्रो का 5 सितंबर को इनॉगरेशन किया जाएगा। राजनाथ सिंह इसे हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। इस मौके पर योगी आदित्यनाथ, कैबिनेट मिनिस्टर बृजेश पाठक समेत कई नेता मौजूद रहेंगे। सोमवार को लखनऊ मेट्रो की नई वेबसाइट भी लॉन्च कर दी गई। इसमें लखनऊ मेट्रो से जुड़ी सभी जानकारी आॅनलाइन मिलेगी। मेट्रो में सफर करने वाले अगले हफ्ते से इसके ऑनलाइन कार्ड भी बनवा सकते हैं। पिछले साल 1 दिसंबर को उस वक्त के सीएम अखिलेश यादव भी इसका इनॉगरेशन कर चुके हैं, लेकिन यह सर्विस आज तक शुरू नहीं हो पाई है। 6 सितंबर को पब्ल‍िक के लिए किया जाएगा ओपन…
– लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोशन (LMRC) के मुताबिक, मेट्रो ट्रेन का इनॉगरेशन राजनाथ सिंह करेंगे। पब्लिक के लिए इसे अगले दिन यानी 6 सितंबर से शुरू किया जाएगा।
– इसी के मद्देनजर सोमवार को उसकी नई वेबसाइट भी लॉन्च कर दी गई। इस पर सभी रूट के लिए ऑनलाइन टिकट और मेट्रो कार्ड लिए जा सकेंगे।
ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग तक चलेगी, ये रहेगी टाइमिंग
– लखनऊ मेट्रो रोजाना सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक चलेगी, कुल साढ़े 8 किलोमीटर की दूरी तय करेगी।
– इस दूरी में कुल 8 स्टेशन हैं। इसका एवरेज हर एक किलोमीटर पर एक मेट्रो स्टेशन है।
– इसमें टांसपेार्ट नगर, कृष्णा नगर, सिंगार नगर, आलमबाग, आलमबाग बस स्टैंड, मवैया, दुर्गापुरी और चारबाग स्टेशन शामिल हैं।
लखनऊ में मेट्रो के 4 रूट तैयार हो रहे
– अमौसी से कुर्सी रोड।
– बड़ा इमामबाड़ा से सुल्तानपुर रोड।
– पीजीआई से राजाजीपुरम।
– हजरतगंज से फैजाबाद रोड तक मेट्रो को जोड़ा जाएगा।
2013 में हुई थी लखनऊ मेट्रो प्रोजेक्ट की शुरुआत
– लखनऊ मेट्रो पूर्व सीएम अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल था। उन्होंने मेट्रो की शुरुआत 2013 में की थी, लेकिन इस काम ने रफ्तार 2014 में पकड़ी। 3 साल के में इसके ट्रैक का काम पूरा कर लिया गया।
इनॉगरेशन पहले भी हुआ, लेकिन सर्विस शुरू नहीं हो पाई
– बता दें, अखिलेश यादव ने 1 दिसंबर 2016 को मेट्रो को हरी झंडी दिखाई थी, जिसमें मुलायम सिंह यादव ने फीता काटकर लोकार्पण किया था।
– उस समय आलमबाग डिपो से ट्रांसपोर्ट नगर तक 6 किलोमीटर का ट्रायल रन किया गया था।
– इसे पब्लिक के लिए शुरू करने की कई बार डेट दी गई, लेकिन यह शुरू नहीं हो पाई।
4 हजार मजदूर लगे, ढाई करोड़ रुपए रोज हुए खर्च
– मेट्रो के एक इंजीनियर ने बताया कि साढ़े 8 किमी के ट्रैक पर करीब 2 हजार करोड़ रुपए खर्च हुए।
– लखनऊ मेट्रो को बनाने में 4 हजार मजदूर, 790 दिन और 2 करोड़ 53 लाख 16 हजार रुपए रोजाना खर्च लगा है।
Courtesy: Bhaskar.com
Categories: Regional