स्वच्छ भारत टैक्स को लेकर मोदी सरकार के पास कोई हिसाब नहीं है, आरटीआई से हुआ खुलासा

स्वच्छ भारत टैक्स को लेकर मोदी सरकार के पास कोई हिसाब नहीं है, आरटीआई से हुआ खुलासा

गाँधी जयंती के दिन साल 2014 को धूमधाम से स्वच्छ भारत शुरू हुआ। फिर शुरू हुआ स्वच्छ भारत के नाम पर टैक्स लेना अब खुलासा हुआ है कि ‘स्वच्छ भारत सेस’ से होने वाली इनकम का कोई भी आंकड़ा केंद्र सरकार के पास नहीं है।

लखनऊ हाईकोर्ट के वकील निशांत शेखर ने सेंट्रल एक्साईज एन्ड कस्टम डायरेक्ट्रेट से आरटीआई डालकर जब ये जानने की कोशिश की स्वच्छ भारत टैक्स के जरिए सरकार ने बीते वित्तीय वर्ष 2016-17 में कितनी रकम इकट्ठा हुई है और उसका कहां उपयोग किया गया है। तो सेंट्रल एक्साईज एन्ड कस्टम डायरेक्ट्रेट ये जवाब देते कहा कि अभी फ़िलहाल इसका कोई आंकड़ा मौजूद नहीं है।

न्यूज़18 के मुताबिक, निशांत बताते है कि उन्होंने आरटीआई के जरिए से पीएमओ से स्वच्छ भारत सेस के बारे में जानकारी मांगी थी। मगर उन्हें ये कहकर जवाब दिया गया कि अभी इसका कोई हिसाब नहीं है।

बता दें कि, सर्विस टेक्स के तहत 0।5 स्वच्छ भारत टैक्स लिया जाता था। जिसके तहत निशांत ने आरटीआई डाल ये जानने की कोशिश की सरकार के पास इससे अभी तक कितना पैसा जमा हुआ।

क्योंकि निशांत बताते है कि हजारों करोड़ रूपये का स्वच्छ भारत सेस जमा हुआ है। लेकिन सरकार के पास इससे जुड़ा कोई डाटा मौजूद नहीं है। अब वे इसके लिए हाईकोर्ट में पीआईएल दाखिल करेंगे।

Courtesy: boltahindustan.

Categories: India