बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भाजपा के सांसदों-विधायकों पर दर्ज है महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामले

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भाजपा के सांसदों-विधायकों पर दर्ज है महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामले

एक रिपोर्ट में खुलासा करते हुए रविवार को बताया गया है कि देश भर में कुल 51 सांसदों और विधायकों ने महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामलों की घोषणा की है जिनमें कथित तौर पर दुष्कर्म जैसा घिनौना कृत्य और अपहरण जैसे मामले भी शामिल हैं. चुनाव सुधारों के लिये काम करने वाले एक गैर सरकारी संगठन असोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स द्वारा किये गये एक अध्ययन में कहा गया कि 51 में से 48 विधानसभाओं के सदस्य हैं और तीन संसद के सदस्य हैं.

सबसे ज्यादा बीजेपी के सांसद, विधायक

पार्टीवार विवरण देते हुये अध्ययन में कहा गया कि विभिन्न मान्यता प्राप्त दलों में बीजेपी के विधायकों सांसदों की संख्या सबसे ज्यादा (14) है, इसके बाद शिवसेना (7) ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस (6) के नेताओं का नंबर आता है जिन्होंने महिलाओं के खिलाफ अपराध से जुड़े मामलों की घोषणा की है.

दुष्कर्म, महिला से क्रूरता

एडीआर की रिपोर्ट बताती है कि ‘‘51 सांसद और विधायक हैं जिन्होंने अपने खिलाफ दायर महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामलों की घोषणा की है. इनमें हमला या महिला की गरिमा भंग करने के उद्देश्य से आपराधिक बल का इस्तेमाल, अपहरण, महिला को शादी के लिये बाध्य करना, दुष्कर्म, महिला से क्रूरता, देह व्यापार के लिये नाबालिग की खरीद-फरोख्त, महिला का अपमान करने के उद्देश्य से हावभाव का प्रदर्शन शामिल हैं.’’

Courtesy: livekhabar24

Categories: India

Related Articles