शिवराज के कार्यक्रम की वजह से सड़क पर लगा जाम, अस्पताल पहुंचने से पहले घायल ने दम तोड़ा

शिवराज के कार्यक्रम की वजह से सड़क पर लगा जाम, अस्पताल पहुंचने से पहले घायल ने दम तोड़ा

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के एक कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रीय राजमार्ग पर लंबा लग गया। इस दौरान बस का एक कर्मचारी गिर गया जिसके बाद उसकी हालत बिगड़ती गई। लेकिन केवल पंद्रह किलोमीटर दूरी तय करने में तीन घंटे से ज्यादा समय लग गया। अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक, यह कर्मचारी शिवराज की रैली के लिए बस लेकर विदिशा गया था।

चश्मदीदों के मुताबिक घायल हालत में साजिद नाम के इस व्यक्ति को इलाज के लिए नटेरन अस्पताल लाया जा रहा था। लेकिन रास्ते में लंबे जाम की वजह से वह तीन घंटे तक फंसा रहा। उसे समय पर इलाज नहीं मिल पाया। इससे उसकी अस्पताल पहुंचने से पहले ही मौत हो गई। साजिद बस क्लीनर था और वह बीजेपी कार्यकर्ताओं को लेकर कागपुर पहुंचा था।

नटेरन अस्पताल में कार्यरत ब्लॉक मेडिकल अधिकारी नीतू सिंह ने कहा अस्पताल आने से पहले उसकी मौत हो चुकी थी, उसका पूरा शरीर ठंडा पड़ चुका था। उसकी लगभग 3 घंटे पहले मौत हो गई थी। अगर पहले अस्पताल लाया जाता तो शायद बच सकता था। उसका पूरा शरीर अकड़ा हुआ था नाक-मुंह से खून आ रहा था। घटना स्थल से नटेरन आने में 15 मिनट लगते हैं लेकिन वह तीन घंटे बाद अस्पताल पहुंचे।

बीजेपी प्रवक्ता राहुल कोठारी ने कहा हमारे मुख्यमंत्री बहुत संवेदनशील हैं। वे ध्यान रखते हैं कि लोगों को असुविधा न हो। प्रशासनिक कार्यक्रम था बहुत लोग आए थे। हमें पता लगा है कि बस क्लीनर के साथ हादसा हुआ है। प्रशासन ने बताया उसे मिर्गी थी। मुख्यमंत्री ने मुआवजे का ऐलान किया है हमारी कोशिश रहेगी कि दुबारा ऐसा न हो।

 

Courtesy: nationaldastak.

Categories: India

Related Articles