शर्मनाक, बेटी बचाने वालों के राज में बेटियों मुसीबत में, हत्या, बलात्कार के बाद महिला को तेजाब में नहलाया

शर्मनाक, बेटी बचाने वालों के राज में बेटियों मुसीबत में, हत्या, बलात्कार के बाद महिला को तेजाब में नहलाया

उत्तरप्रदेश महिलाओं के लिए नरक बनता जा रहा है। राज्य में महिलाओं पर होने वाले हमलें तो बढ़ ही रहे हैं साथ ही हमलों में होने वाली बर्बरता भी बढ़ती जा रही है।

ताज़ा मामला फर्रुखाबाद के फतेहगढ़ का है, जहाँ वकील से मिलकर वापस जा रही कानपुर निवासी 28 वर्षीय सुधा (काल्पनिक नाम) को बदमाशों ने रास्ते से उठाकर पूरी रात मारा-पीटा। सिर्फ इतना ही नहीं उन्होंने पीड़ित महिला पर तेज़ाब उड़ेल दिया और उसे तड़पती हालत में सड़क किनारे फेंक कर गायब हो गए।

इस तरह निडर होकर महिला को उठा लेना और पूरी रात मारना-पीटना ये तो बताता ही है कि राज्य के अपराधियों में कानून का डर ख़त्म हो चुका है। लेकिन पीड़िता पर तेज़ाब डालना और उसे सड़क किनारे तड़पने के लिए छोड़ देना ये दिखाता है कि भाजपा राज में रुड़ीवादी पुरुषप्रधान सोच और ज़्यादा मज़बूत हो रही है। एसा माहौल बन रहा है जैसे महिलाओं के साथ कुछ भी करना पुरुषों का अधिकार है।

किसी राहगीर ने घटना की खबर एम्बुलेंस को दी जिसके बाद पीड़िता को लोहिया अस्पताल लाया गया। डॉक्टरों ने बताया की महिला का शरीर 55% जल चुका है। इलाज चल रहा है, लेकिन वह खतरे में है।

Courtesy: boltahindustan

Categories: Crime

Related Articles