गोरखपुर: BRD में फिर कोहराम, चार दिन में 57 बच्चों की मौत

गोरखपुर: BRD में फिर कोहराम, चार दिन में 57 बच्चों की मौत

गोरखपुर। अगस्त में गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल में 60 से ज्यादा बच्चों की मौत पर काफी बवाल हुआ था। तब ऑक्सीजन की सप्लाई बंद होने को लेकर अस्पताल के प्रिंसीपल सहित कई लोगों पर गाज गिरी थी। बाद में सरकार के मंत्री ने अगस्त महीने को जिम्मेदार ठहराया तो भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बड़े देश पर ठीकरा फोड़ा।

खैर, अगस्त के बाद भी इस अस्पताल में बच्चों की मौत होती रही। अभी खबर आ रही है कि पिछले चार दिनों में इसी अस्पताल में 57 बच्चों की मौत हो गई। इनमें 32 बच्चे नवजात थे। पिछले दिनों इन्हें बीआरडी के बालरोग विभाग में भर्ती कराया गया था।

सबसे ज्यादा मौतें नियोनेटल इंसेंटिव केयर यूनिट (एनआईसीयू) में हुईं। इनमें अधिकांश मौतों की वजह प्रीमेच्योर डिलेवरी और संक्रमण रही। बीआरडी में 28 सितंबर को एनआईसीयू में नौ व पीआईसीयू में छह, 29 सितंबर को एनआीसीयू में आठ व पीआईसीयू में सात व 30 सितंबर को एनआईसीयू में आठ व पीआईसीयू में छह बच्चों की मौत हुई। एक अक्टूबर को एनआईसीयू में सात व पीआईसीयू में छह बच्चों की मौत हुई।

आपको बता दें कि बीआरडी में गोरखपुर के दूरदराज व नेपाल से भी मरीज आते हैं। कई मरीजों की हालत यहां आते-आते बिगड़ जाती है, जिसे संभालना डॉक्टरों के लिए मुश्किल हो जाता है।

अगस्त में हुई बच्चों की मौत पर भारी हंगामा हुआ था। अस्पताल पर ऑक्सीजन सप्लायर कंपनी का बकाया था जिसे कमीशन की वजह से लटकाया जा रहा था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दौरे के दो दिन बाद ही मासूमों पर ऑक्सीजन सप्लाई बंद होने के कारण कहर टूट पड़ा और लाशों में तब्दील होते रहे।

Courtesy: nationaldastak.

Categories: Regional