मनमोहन का सीना ‘56 इंच’ का नहीं था, पर उन्होंने नरेंद्र मोदी से ज़्यादा काम किया : राहुल गांधी

मनमोहन का सीना ‘56 इंच’ का नहीं था, पर उन्होंने नरेंद्र मोदी से ज़्यादा काम किया : राहुल गांधी

अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी में राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए बहाने बनाने का समय ख़त्म हो चुका है

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला है. गुरुवार को अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी के तीन दिवसीय दौरे के दूसरे दिन राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए बहाने बनाने समय अब ख़त्म हो चुका है और अब वे जनता से किए अपने वादे पूरे करें. राहुल गांधी का यह बयान नरेंद्र मोदी के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने कुछ लोगों पर देश में निराशा फैलाने का आरोप लगाया था. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी यह स्वीकार करने में उदारता दिखाएं कि वे 2014 के चुनाव में किए वादे पूरे नहीं कर पाए. कांग्रेस उपाध्यक्ष का यह भी कहना था कि अब प्रधानमंत्री को अगले डेढ़ साल में अपने वादे पूरे करने पर ध्यान देना चाहिए.

राहुल ने रोजगार सृजन की खस्ता हालत को लेकर भी सरकार को घेरा. उन्होंने कहा कि भारत चीन की अपेक्षा कम नौकरियां पैदा कर रहा है. कांग्रेस उपाध्यक्ष का कहना था, ‘वे (मोदी सरकार) नौकिरयां नहीं दे पा रहे. यह एक बहुत बड़ी समस्या और संकट है. इसका समाधान करने के लिए नरेंद्र मोदी को घबराने और बहाने बनाने की जगह इस संकट को स्वीकार करना चाहिए. ’ कांग्रेस उपाध्यक्ष ने प्रधानमंत्री मोदी को नौकरियों और कृषि क्षेत्र पर ध्यान देने की सलाह दी.

पार्टी के कार्यकर्ताओं से बात करते हुए राहुल गांधी ने पीएम मोदी के ‘56 इंच का सीने’ वाले बयान पर तंज़ भी कसा. उन्होंने कहा कि मनमोहन सिंह का सीना 56 इंच का नहीं था लेकिन उन्होंने मोदी से ज़्यादा काम किया. राहुल गांधी का यह भी कहना था कि बुलेट ट्रेन लाने के लिए जापान से जो पैसा लिया जा रहा है उसे रेलवे की हालत सुधारने में इस्तेमाल किया जा सकता था.

Courtesy: Satyagrah

Categories: India

Related Articles