कश्मीर में बेटी बचाओ अभियान के पोस्टर में महिला अलगाववादी लीडर की तस्वीर

कश्मीर में बेटी बचाओ अभियान के पोस्टर में महिला अलगाववादी लीडर की तस्वीर
जम्मू.कश्मीर सरकार के बेटी बचाओ अभियान के पोस्टर में अलगाववादी लीडर आसिया अंद्राबी की तस्वीर लगा दी गई। आसिया दुख्तरन-ए-मिल्लत की चीफ हैं। उन्हें इस साल दो बार अरेस्ट किया गया है। आसिया पर कश्मीर को महिलाओं को फोर्सेस पर पत्थरबाजी के लिए भड़काने के आरोप लगते रहे हैं। बता दें कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ नरेंद्र मोदी सरकार की अहम योजना है।

कौन है आसिया अंद्राबी, क्या हैं आरोप: Q&A में जानिए पूरा मामला

Q. कहां लगा था ये पोस्टर?
A. एक न्यूज चैनल के मुताबिक, अनंतनाग में टूरिज्म फेस्टिवल के दौरान जम्मू-कश्मीर की सरकार ने “बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ” योजना का पोस्टर लगाया था।
Q. और किनकी तस्वीरें थी पोस्टर में?
A.
 आसिया की तस्वीर एस्ट्रोनॉट कल्पना चावला, टेनिस प्लेयर सानिया मिर्जा, लता मंगेशकर, किरण बेदी और मदर टेरेसा का नाम था। इनके अलावा पोस्टर में जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती और भारत की पूर्व प्राइम मिनिस्टर इंदिरा गांधी की भी तस्वीर है।
Q. क्या एक्शन लिया जाएगा?
A.
 एक न्यूज चैनल पर दिखाई गई इस खबर पर बीजेपी एमएलए रवींदर रैना ने रिएक्शन दिया- इस काम के पीछे जो भी अफसर जिम्मेदार होगा, उस पर एक्शन लिया जाएगा।
Q. कौन हैं आसिया अंद्राबी?
A.
 ऑल पार्टी हुर्रियत कान्फ्रेंस के हिस्से दुख्तरन-ए-मिल्लत (देश की बेटियां) की फाउंडर हैं। इस ग्रुप का मकसद कश्मीर को भारत से अलग करना है। आसिया के सपोर्टर उन्हें आयरन लेडी कहते हैं।
Q. टेरर ऑर्गनाइजेशंस के रिश्ते हैं?
A.
 कश्मीर के सबसे बड़े आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन के फाउंडिंग मेंबर आशिक हुसैन फख्तू से आसिया ने शादी की थी। 1992 से उनका पति जेल में है। 2013 में आसिया के तीन भतीजों को पाकिस्तान में आतंकियों से लिंक्स होने की वजह से अरेस्ट किया गया था।
Q. कश्मीर में पत्थरबाजी से क्या कनेक्शन है?
A.
 घाटी की पॉलिटिक्स में आसिया का अहम रोल है। आसिया 2010 की पत्थरबाजी की घटनाओं के दौरान मसर्रत आलम के सपोर्ट के लिए सुर्खियों में आईं। उन्होंने अपने ग्रुप के नेटवर्क का इस्तेमाल इन रैलियों को मजबूत करने में किया।
Q. एंटी नेशनल एक्टिविटी में शामिल रहीं?
A.
 25 मार्च 2015 को कश्मीर में पाकिस्तान का झंडा फहराया और पाकिस्तान का नेशनल एंथम भी गया। श्रीनगर में नेशनल डे पर पाकिस्तान का झंडा फहराने के लिए उन्हें अरेस्ट किया गया था। मुंबई हमलों के मास्टर माइंड हाफिज सईद का सपोर्ट भी किया था। फिलहाल आसिया जेल में हैं।
Courtesy: Bhaskar.com
Categories: India

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*