कीवी कोच हेसन ने कोहली के मैचजिताऊ रणबांकुरों पर बोल दी ये बड़ी बात

कीवी कोच हेसन ने कोहली के मैचजिताऊ रणबांकुरों पर बोल दी ये बड़ी बात

नई दिल्ली, जेएनएन। भारत आने वाली लगभग हर विदेशी टीम पर पिछले कुछ समय से यहां के स्पिनरों का खौफ रहता ही है। हालांकि, भारत में वनडे और टी-20 सीरीज खेलने आई न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के कोच माइक हेसन ने कहा है कि उनके बल्लेबाजों को भारतीय स्पिनरों से डरने की जरूरत नहीं है। हेसन का यह बयान उनकी टीम के लिए भारी हो सकता है, क्योंकि उनसे मजबूत ऑस्ट्रेलिया की टीम भारत में 1-4 से वनडे सीरीज हारकर गई है। यही नहीं, वनडे रैंकिंग में भारतीय टीम जहां दूसरे नंबर पर है तो कीवी टीम पांचवें नंबर पर। अपने घर में तो भारतीय टीम को हराना लगभग नामुमकिन हो जाता है।

 

इन दोनों से खौफ खा गए थे कंगारू

न्यूजीलैंड और भारत के बीच वनडे सीरीज 22 अक्टूबर से शुरू हो रही है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार प्रदर्शन करने वाले युवा भारतीय गेंदबाजों कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल के बारे में हेसन ने कहा कि वे कलाई के स्पिनर हैं और उनके खिलाफ रन बनाना हमेशा आसान होता है, इसलिए हमें उनसे डरने की जरूरत नहीं है। आपको बता दें कि इन दोनों गेंदबाजों के अलावा अक्षर चहल ने भी ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों की नाक में दम कर दिया था। खासतौर पर कुलदीप के नाम से ही कंगारू बल्लेबाज खौफ खाने लगे थे।

 

हेसन बोले- हम तो रन लूटेंगे

हेसन ने सोमवार को पत्रकारों से कहा, ‘हम जानते हैं कि कलाई से स्पिन कराने वाले गेंदबाज हमेशा ही रन बनाने का मौका देते हैं, इसलिए हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हम उन्हें पहले से ही रहस्यमयी न मान लें और उनकी गेंदों को अच्छे तरीके से खेलें।’ पिछले साल न्यूजीलैंड और भारत के बीच हुई सीरीज के 5 मैचों में अमित मिश्रा ने 15 विकेट लिए थे। इस बार मेहमान टीम को फॉर्म में चल रहे चहल और कुलदीप का सामना करना होगा।

 

‘हमारे बल्लेबाजों ने यादव को खेला है’

मेहमान टीम के कोच हेसन ने माना कि हर बल्लेबाज का स्पिन को खेलने का अपना तरीका होता है और हमारे लिए यह जरूरी है कि हम भारतीय स्पिन गेंदबाजों को रहस्मयी न समझें। हेसन ने कहा, ‘हमारे पास ऐसे बहुत खिलाड़ी है, जिन्होंने आइपीएल में कुलदीप का सामना किया है। कुछ तो उनके साथ एक ही टीम में खेलें हैं, तो वे खिलाड़ी बाकी खिलाड़ियों से जानकारियां साझा कर रहे हैं।’

 

3 वनडे और 3 टी-20 मैचों में होगा सामना

उन्होंने कहा, ‘बल्लेबाजी करते समय कुछ बल्लेबाजों की नजर गेंदबाज के हाथ और कलाई पर रहती है। कुछ बल्लेबाज पिच को पढ़कर बल्लेबाजी करते है, तो कुछ हवा में गेंद को देखकर। हर किसी का अलग तरीका है और मैं समझता हूं कि आप सभी बल्लेबाजों को एक आकार में फिट नहीं हो सकते।’ न्यूजीलैंड टीम 22 अक्टूबर से 7 नवंबर के बीच भारत की मेजबानी में 3 वनडे और 3 टी-20 मैचों की सीरीज खेलेगी। पहला वनडे मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में होगा।

 

कर्ण और नदीम से पाना होगा पार

हेसन भले ही अपनी टीम के बल्लेबाजों का मनोबल ऊंचा रखने का काम कर रहे हों, लेकिन वह भी जानते हैं कि ऐसा करना आसान नहीं होगा। भारत की क्रिकेट बोर्ड की प्रेसीडेंट इलेवन की टीम और न्यूजीलैंड के बीच प्रैक्टिस मैच होना है। इसमें न्यूजीलैंड की टीम को पहले रेलवे के लेग स्पिनर कर्ण शर्मा और झारखंड के लेफ्ट आर्म स्पिनर शाहबाज नदीम से पार पाना होगा। इन दोनों खिलाड़ियों ने मिलकर न्यूजीलैंड-‘ए’ के खिलाफ अनाधिकृत टेस्ट और वनडे मैचों को मिलाकर कुल 47 विकेट चटकाए थे। ऐसे में हेसन की बात को हवाहवाई ही माना जा सकता है।

 

इनके सामने फेल हो गए थे कीवी

जब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट सितारों से सजी न्यूजीलैंड ‘ए’ की टीम इन दोनों गेंदबाजों का ही सामना नहीं कर सकी तो उनके सीनियर कुलदीप, चहल और अक्षर के सामने कितनी देर संघर्ष कर सकेगी, यह देखना मजेदार होगा। कर्ण और नदीम कीवी टीम के लिए खतरा इसलिए माने जा रहे हैं क्योंकि दोनों ने न्यूजीलैंड ‘ए’ के खिलाफ अनाधिकृत टेस्ट सीरीज में क्रमश: 16 और 14 विकेट झटके थे। वनडे सीरीज में भी कर्ण और शाहबाज का जलवा बरकरार रहा और दोनों ने क्रमश: 9 और 8 विकेट अपने नाम किए थे।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Sports

Related Articles