मौत का विकास गोरखपुर से गुजरात पहुंचा, अहमदाबाद के अस्पताल में 9 बच्चों की मौत

मौत का विकास गोरखपुर से गुजरात पहुंचा, अहमदाबाद के अस्पताल में 9 बच्चों की मौत

राज्यों की स्वास्थ्य व्यवस्था में कमी भाजपा के लिए घातक साबित हो सकती है। इसी वर्ष अगस्त में उत्तरप्रदेश के बीआरडी अस्पताल में 50 से ज़्यादा की मौत हो गई थी। इसके बाद झारखण्ड में भी सरकारी अस्पताल में काफी बच्चों की मौत हुई। अब नया मामला गुजरात का है। अहमदाबाद के सिविल हॉस्पिटल में शनिवार देर रात 9 नवजातों की मौत हो गई।

इन सभी राज्यों में सामान बात है वो ये है कि ये सभी राज्य भाजपा द्वारा शासित हैं। गुजरात में दिसम्बर में चुनाव होने हैं। भाजपा गुजरात में सत्ताविरोधी लहर का सामना कर रही है। इसीलिए वो राज्य में विकास के नारे को बुलंद कर रही है लेकिन राज्य की राजधानी में कुछ ही घंटों में 9 बच्चों की मौत हो जाना भाजपा के विकास के दावे पर सवाल खड़ा करता है।

गुजरात वही राज्य है जिसे 2014 लोकसभा चुनाव में भाजपा ने मॉडल के तौर पर पेश किया था। लेकिन अब राज्य के विकास पर कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं। अहमदाबाद में हुई बच्चों की ये मौत इन सवालों को आधार देती है। स्वास्थ्य व्यवस्था में इस तरह की कमी गुजरात चुनाव में भाजपा को भारी पड़ सकती है।

सिविल हॉस्पिटल में 9 बच्चों की मौत पर कांग्रेस ने भाजपा पर निशाना साधा है। कांग्रेस नेता शक्ति सिंह गोहिल ट्वीट कर कहा कि 9 बच्चों की मौत पर गुजरात सरकार को जवाबदेही स्वीकार करना चाहिए। ये घटना स्वास्थ्य के बारे में राज्य सरकार की लापरवाही को उजागर करती है।

Courtesy: boltahindustan.

Categories: India

Related Articles