इशू प्राइस के 17% प्रीमियम पर लिस्ट हुए रिलायंस निप्पन लाइफ के शेयर

इशू प्राइस के 17% प्रीमियम पर लिस्ट हुए रिलायंस निप्पन लाइफ के शेयर

नई दिल्ली
सोमवार को शेयर बाजार में लिस्टेड होते ही रिलायंस निप्पन लाइफ ऐसेट मैनेजमेंट (आरएनएएम) के शेयरों ने उड़ान भर दी। कंपनी ने 252 रुपये की दर से आईपीओ जारी किए थे जो नैशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) पर 17.42 प्रतिशत की ऊंचाई के साथ प्रति शेयर 295.90 रुपये की दर से लिस्टेड हुए।

1540 करोड़ रुपये का आईपीओ 247 से 252 रुपये के प्राइस बैंड पर बेचा गया और उसे 81.5 गुना सब्सक्रिप्शन मिला। रिलायंस निप्पन लाइफ ऐसे मैनेजमेंट कंपनी का आईपीओ 25 से 27 अक्टूबर के बीच जारी हुआ था।

राकेश झुनझुनवाला, आकाश भंसाली और निमेश शाह जैसे मार्की इन्वेस्टर्स ने देश की पहली म्यूचुअल फंड (एमएफ) की ओर से जारी आईपीओ के लिए 550 करोड़ रुपये की बोली लगाए जाने की खबर आने के बाद निवेशकों का तांता लग गया। इशू प्राइस पर शेयर वित्त वर्ष 2017 की प्रति शेयर अर्निंग्स के 37 गुना और वित्त वर्ष 2017 की बुक वैल्यू के 8 गुना पर उपलब्ध था।

ग्रे मार्केट ट्रेंड्स में शेयरों की लिस्टिंग 300 और 3007 रुपये प्रति शेयर के आसपास दिख रही थी। यह स्टॉक के लिए 19-22 प्रतिशत का लिस्टिंग प्रीमियम था। यह भारत में किसी बड़ी ऐसेट मैनेजमेंट कंपनी की ओर से इनिशल शेयर की पहली बिक्री थी। हालांकि, इसकी छोटी प्रतिस्पर्धी कंपनी यूटीआई म्यूचुअल फंड का आईपीओ लाने का प्लान लंबे समय से अटका पड़ा है। इकनॉमिक्स टाइम्स के मुताबिक, यह 2008 में रिलायंस पावर के बाद पहला इशू था।

कंपनी इशू से जुटाए पैसे का इस्तेमाल नए शाखाएं खोलने और कुछ मौजूदा शाखाओं की जगह बदलने, आईटी सिस्टम अपग्रेड करने, ब्रैंड बिल्डिंग ऐक्टिविटीज, अपनी सहायक कंपनी रिलायंस एआईएफ को कर्ज देने, कंपनी की ओर से मैनेज्ड म्यूचुअल फंड स्कीम्स में निवेश करने जैसे कामों में किया जाएगा।

Courtesy: NBT
Categories: Finance

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*