‘पद्मावती’ विवाद थमता ना देख आख़िर सामने आए संजय लीला भंसाली, वीडियो के ज़रिए रखा अपना पक्ष

‘पद्मावती’ विवाद थमता ना देख आख़िर सामने आए संजय लीला भंसाली, वीडियो के ज़रिए रखा अपना पक्ष

मुंबई। अपनी फ़िल्म ‘पद्मावती’ को लेकर चल रहे विवादों का सिलसिला थमता ना देख आख़िरकार डायरेक्टर संजय लीला भंसाली को सामने आना पड़ा है। भंसाली ने एक वीडियो जारी करके अपना पक्ष रखा है और उन सारी शंकाओं को ख़त्म करने की कोशिश की है, जिन्हें विवाद की जड़ बताया जा रहा है।

विरोध करने वालों का आरोप है कि फ़िल्म में रानी पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच एक ड्रीम सीक्वेंस के दौरान प्रेम-प्रसंग दिखाया जाएगा, जो कि बिल्कुल ग़लत तथ्य है। लगभग सवा मिनट के अपने वीडियो में भंसाली इसी बात पर ज़ोर देते दिख रहे हैं कि फ़िल्म में पद्मावती और खिलजी को लेकर ऐसा कोई दृश्य नहीं दिखाया जाएगा। ये पूरी तरह अफ़वाह है। वीडियो में भंसाली कहते हैं कि वो पद्मावती की कहानी से काफ़ी प्रभावित रहे हैं और ये फ़िल्म उन्होंने पूरी ज़िम्मेदारी से बनायी है। एक अफ़वाह की वजह से फ़िल्म विवाद का शिकार बन चुकी है।

 

भंसाली कहते हैं, ”मैंने हमेशा से इस बात को नकारा है और लिखित प्रमाण भी दिया है और अब इस वीडियो के माध्यम से फिर दोहरा रहा हूं कि हमारी फ़िल्म में ऐसा कोई सीन नहीं है जो किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाए या जज़्बात को तकलीफ़ दे। हमने इस फ़िल्म को पूरी ज़िम्मेदारी से बनाया है। राजपूत मान और मर्यादा का ख्याल रखा है।” ‘पद्मावती’ चित्तौड़ की महारानी पद्मिनी के इतिहास-प्रसिद्ध जौहर की कहानी है, जिसमें दीपिका पादुकोण पद्मावती का किरदार निभा रही हैं। रणवीर सिंह फ़िल्म में अलाउद्दीन खिलजी के किरदार में हैं, जबकि शाहिद कपूर महारानी पद्मावती की शौहर महारावल रतन सिंह का रोल निभा रहे हैं।

 

आपको बता दें कि राजस्थान के राजपूत संगठन करणी सेना ने सबसे पहले जयपुर में इस मुद्दे को उठाया था और इस साल की शुरुआत में जयपुर के जयगढ़ क़िले में फ़िल्म की शूटिंग के दौरान बाधा पहुंचायी थी। करणी सेना के सदस्यों ने भंसाली के साथ हाथापाई की और शूटिंग के उपककरण तोड़ डाले थे। धीरे-धीरे ये विवाद अब सियासी रूप लेने लगा है। गुजरात में चुनाव के मद्देनज़र बीजेपी ने पद्मावती मुद्दे को लपक लिया है और फ़िल्म पर बैन लगाने की मांग की जाने लगी है। देशभर के राजपूत संगठन भी पद्मावती की रिलीज़ को विरोध कर रहे हैं।

 

आपको याद होगा, पिछले साल कुछ ऐसा ही माहौल करण जौहर की फ़िल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ के ख़िलाफ़ भी बन गया था। उस वक़्त पाकिस्तान के साथ रिश्तों में तनाव के चलते पाकिस्तानी एक्टर फ़वाद ख़ान को लेकर इसका देशभर में विरोध किया गया था। फ़िल्म की रिलीज़ के चलते करण को फ़वाद के सीन काटने पड़े थे। करण ने वीडियो के ज़रिए पब्लिक मैसेज देकर विरोध को शांत करने की कोशिश भी की थी। ‘पद्मावती’ पहली दिसंबर को रिलीज़ हो रही है। भंसाली का पूरा बयान नीचे दिए गये वीडियो में सुन सकते हैं-

 

Courtesy: Jagran.com

Categories: Entertainment

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*