इंडियन बॉलर का कमाल: 4 मेडन ओवर में झटके सभी 10 विकेट, हैट्रिक भी ली

इंडियन बॉलर का कमाल: 4 मेडन ओवर में झटके सभी 10 विकेट, हैट्रिक भी ली
राजस्थान के बाएं हाथ के फास्ट बॉलर आकाश चौधरी ने जयपुर में खेले गए टी20 मैच में शानदार कारनामा किया। उन्होंने 4 ओवर में बिना कोई रन दिए सभी 10 खिलाड़ियों को आउट किया। एक हैट्रिक भी ली। 15 साल के इस लड़के ने ये ऐसा कारनामा कर दिया है, जो क्रिकेट इतिहास में आज तक कोई नहीं कर सका। इंटरनेशनल क्रिकेट में एक बॉलर के 10 विकेट लेने का अचीवमेंट कई बार हो चुका है, लेकिन बिना कोई रन दिए चार ओवर में 10 विकेट आज तक कोई नहीं ले सका। हालांकि, इस रिकॉर्ड को रिकॉर्ड बुक में जगह नहीं मिल पाएगी क्योंकि यह आधिकारिक टूर्नामेंट नहीं था। 6 खिलाड़ी हुए बोल्ड….
– भरतपुर के आकाश ने जयपुर में खेले गए लोकल टी20 टूर्नामेंट में यह रिकॉर्ड बनाया। 16 साल के आकाश भंवर सिंह देवड़ा स्मृति टी20 क्रिकेट टूर्नामेंट में दिशा क्रिकेट एकेडमी की ओर से उतरे।
– उन्होंने पर्ल क्रिकेट एकेडमी के 10 बैट्समैन को अपना शिकार बनाया। 6 खिलाड़ियों को बोल्ड किया, जबकि 4 एलबीडब्ल्यू हुए।
– आकाश ने इस मैच में हैट्रिक भी ली। उन्होंने अपने अंतिम चार विकेट चौथे ओवर में लिए। इसमें आखिरी तीन बॉल पर उन्हें लगातार विकेट मिले।
– दिशा एकेडमी ने पहले खेलते हुए 6 विकेट पर 156 रन बनाए। पार्थ उपाध्याय ने 73 और रोहित ने 51 रन की इनिंग खेलीं। पर्ल एकेडमी 7 ओवर में 32 रन पर ढेर हो गई।
– भरतपुर जिला क्रिकेट संघ के सचिव शत्रुघ्न तिवारी ने कहा, ‘इस लड़के में क्रिकेट का जूनुन है। वह पहले बीकानेर के शार्दुल स्पोर्ट्स स्कूल में था। फिर जयपुर आ गया। अब विवेक यादव की अरावली क्रिकेट एकेडमी में ट्रेनिंग लेता है। भरतपुर जिले से पिछले साल अंडर-14 खेला था। गरीब परिवार से है और कुछ दिन पहले ही आकाश के पिता महाराज सिंह शिक्षा मित्र लगे हैं।’
आकाश की बॉलिंग में पेस के साथ-साथ स्विंग भी थी
– मैच में आकाश जहां से बॉलिंग कर रहे थे उस छोर पर खड़े अम्पायर रामचंद्र वर्मा से भी हमने आकाश की बॉलिंग के बारे में बात की। उन्होंने कहा, ‘लड़का बहुत ही अच्छी बॉलिंग कर रहा था। उसकी बॉल में पेस के साथ-साथ स्विंग भी थी। विकेट में थोड़ी नमी भी थी तो उसका भी आकाश को फायदा मिला।’
– आकाश के कोच विवेक यादव ने कहा, ‘यह बच्चा पहले बीकानेर था। दो साल पहले ही मेरी एकेडमी में आया है। पांच-पांच विकेट तो यह कई बार मैचों में ले चुका है। लेकिन बिना रन दिए पूरे दस विकेट निकाल ‘विश्व रिकॉर्ड’ बनाएगा ऐसा तो खुद मैंने भी सपने में भी नहीं सोचा था।’
– ‘इस बच्चे में बॉलिंग का जुनून है। इसका भाई लाखन सिंह पहले क्रिकेट खेलता था। वही इसे मेरे पास लाया था। अभी अंडर-16 ओपन ट्रायल दिया है। मुझे पूरी उम्मीद है कि सेलेक्ट हो जाएगा।’
-वहीं, आकाश ने कहा कि वो पूर्व इंडियन बॉलर जहीर खान के बहुत बड़े फैन हैं और भविष्य में उनकी तरह ही सफल बॉलर बनना चाहते हैं।
टेस्ट क्रिकेट में 2 बार हुआ ऐसा
– टेस्ट की एक इनिंग में 10 विकेट लेने का रिकॉर्ड इंग्लैंड के जिम लेकर और भारत के अनिल कुंबले के नाम है। जिम लेकर ने 1956 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यह रिकॉर्ड बनाया था। वहीं, कुंबले ने 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ यह कारनामा किया था।
Courtesy: Bhaskar
Categories: Sports

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*