गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का समर्थन करेंगे अखिलेश यादव

गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का समर्थन करेंगे अखिलेश यादव
समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने दावा किया है कि गुजरात चुनाव मेंं उनकी पार्टी ऐसी किसी भी सीट पर चुनाव नहीं लड़ेगी जिससे कांग्रेस को नुकसान हो।

इटावा, उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव लडऩे वाली समाजवादी पार्टी गुजरात में उनके साथ खड़ी है। इसका संकेत समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कल इटावा में दिया है।

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने दावा किया है कि गुजरात चुनाव मेंं उनकी पार्टी ऐसी किसी भी सीट पर चुनाव नहीं लड़ेगी जिससे कांग्रेस को नुकसान हो। उन्होंने गुजरात की जनता से कांग्रेस के पक्ष में खड़े होने का आह्वन किया।

एक वैवाहिक समारोह में शिरकत करने आए अखिलेश यादव ने कहा कि कांग्रेस की स्थिति गुजरात में काफी अच्छी है। हम वहां पर किसी ऐसी सीट पर उम्मीदवार को नहीं खड़ा करेंगे, जहां पर कांग्रेस की स्थिति काफी अच्छी है। उन्होंने कहा कि हम गुजरात में भले ही कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव नहीं लड़ रहे हैं, लेकिन हम वहां पर होने वाले विधानसभा चुनाव में उनके साथ ही हैं।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव चल रहे हैं। यह चुनाव महत्वपूर्ण हैं। जनता विचार करेगी कि केंद्र सरकार से अब तक उसे क्या मिला। उत्तर प्रदेश की आठ माह की सरकार को भी जनता को हिसाब देना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि जनता कहीं न कहीं यह ढूंढ़ रही है कि कितने स्मार्ट सिटी देश में बन गए। केंद्र सरकार ने दावा किया था कि जन सुविधाएं बढ़ाएंगे मेट्रो चलाएंगे पर हकीकत में कुछ नहीं हुआ।

उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार में उत्तर प्रदेश में नोएडा व लखनऊ में मेट्रो चालू हो गई। केंद्र सरकार को यह बताना पड़ेगा कि जो मेट्रो की नई नीति आई है उससे वाराणसी, कानपुर, मेरठ व आगरा में मेट्रो बन पाएगी या नहीं। इन सवालों के जवाब आने वाले दिनों में जनता योगी सरकार से अवश्य पूछेगी।

उन्होंने भाजपा के निकाय चुनाव में लाए गए घोषणा पत्र को छलावा बताया और कहा कि भाजपा पहले ही तीन घोषणा पत्र जारी कर चुकी है। किसानों ने कर्ज माफी को देख लिया। आज हर ओर अपराध हो रहे हैं, सरकार रामराज्य की बात कर रही है। गुजरात मॉडल कहीं दिखाई नहीं पड़ा।

अखिलेश यादव ने कहा कि मध्य प्रदेश के चित्रकूट विधानसभा उपचुनाव में भाजपा की हार इस पार्टी के प्रति लोगों में बढ़ते अविश्वास और उनके प्रतिरोध का संकेत है।

 

यही दृश्य गुजरात विधानसभा चुनाव में भी नजर आएगा। अखिलेश ने कहा कि चित्रकूट में भाजपा की हार हवा के रुख का संकेत है।

लोग अब जीएसटी और नोटबंदी की हकीकत समझ गए हैं। नतीजा लोगों में भाजपा के प्रति बढ़ते अविश्वास का संकेत है। भाजपा की हार की यह हवा अब गुजरात पहुंचेगी।

उन्होंने केंद्र सरकार पर वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) तथा नोटबंदी को लेकर भी निशाना साधा और कहा कि इनकी सच्चाई अब लोगों के सामने आ रही है।

Courtesy: Jagran

Categories: Politics

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*