GST को कांग्रेस का आशीर्वाद प्राप्त था, लेकिन मोदी सरकार ने इसे जल्दबाज़ी में लागू कर ‘अर्थव्यवस्था’ को नुकसान पहुँचाया : मनमोहन सिंह

GST को कांग्रेस का आशीर्वाद प्राप्त था, लेकिन मोदी सरकार ने इसे जल्दबाज़ी में लागू कर ‘अर्थव्यवस्था’ को नुकसान पहुँचाया : मनमोहन सिंह

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आज केरल के कोच्ची में कहा, “जीएसटी वो विचार है, जिसे कांग्रेस पार्टी का आशीर्वाद प्राप्त था, लेकिन हम इसे पर्याप्त तैयारी के बाद लागू करते।” इसके साथ ही उन्होंने मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों की आलोचना की।

मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि नोटबंदी और जीएसटी के कारण अर्थव्यवस्था धीमी पड़ गई है। उन्होंने दावा किया कि नोटबंदी के ठीक बाद जीएसटी  को जल्दबाज़ी में लागू करने से अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें फिलहाल अर्थव्यवस्था इस स्थिति से पूरी तरह बाहर आते हुए नहीं दिखाई दे रही है।

केरल में कांग्रेस के नेतृत्व वाले UDF की ओर से आयोजित एक सभा में सिंह ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा और 1000-500 रुपए के नोट चलन से बाहर किए जाने के फैसले को बड़ी और ऐतिहासिक भूल करार दिया।

उन्होंने कहा कि 2014 लोकसभा चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी ने वादा किया था कि वो सारा कालाधन वापस ले आएँगे। “अब उन्हें सत्ता में बैठे तीन साल से ज़्यादा हो चुके हैं और जनता पूछ रही है कि हमें भाजपा के शासन से क्या हासिल हुआ।”

उन्होंने कहा “मूलभूत वस्तुओं की कीमतें बढ़ रही हैं। बेरोज़गारी बढ़ रही है और हर साल एक करोड़ नौकरियों देने का वादा भी खोखला साबित हुआ।”

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने बहुत ही जल्दबाज़ी में जीएसटी लागू कर लोगों पर नया बोझ डाल दिया। इसके साथ ही सिंह ने देश के वाम दलों से कहा कि वे केंद्र की भाजपा सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ राष्ट्रीय स्तर पर लडऩे में कांग्रेस नेतृत्व के साथ पूर्ण सहयोग करें।

Courtesy: boltahindustan

Categories: India

Related Articles