BJP स्वास्थ्य मंत्री ने ‘कैंसर’ को बताया पापों का नतीजा, AAP नेता बोलीं- ऐसा एक मूर्ख व्यक्ति ही बोल सकता है

BJP स्वास्थ्य मंत्री ने ‘कैंसर’ को बताया पापों का नतीजा, AAP नेता बोलीं- ऐसा एक मूर्ख व्यक्ति ही बोल सकता है

असम के स्वास्थ्य मंत्री और भाजपा नेता हेमंत बिस्व सरमा ने कैंसर जैसी घातक बीमारियों को लेकर एक हैरान कर देने वाला बयान दिया है। स्वास्थ्य मंत्री के मुताबिक लोगों को कैंसर जैसी भयंकर बीमारी पूर्व में किए गुनाहों के कारण झेलनी पड़ती हैं।

कैंसर मरीज़ों की भावनाओं का ख्याल न रखते हुए उन्होंने संवेदनहीन तरीके से इसे दैवीय न्याय भी बता डाला। उनके इस बयान की निंदा हो रही है।

उन्होंने गुवाहाटी में शिक्षकों को नियुक्ति पत्र वितरित करने के लिए आयोजित कार्यक्रम में कहा, ”कैंसर होना, एक्सीडेंट होना ये सब पूर्व जन्म के कर्मों का नतीजा है। जब हम पाप करते हैं तो भगवान हमें सज़ा देता है।

कई बार हम देखते हैं कि युवाओं को कैंसर हो गया या कोई युवा हादसे का शिकार हो गया। अगर आप पृष्ठभूमि देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि यह ईश्वर का न्याय है और कुछ नहीं। हमने ईश्वर के न्याय का सामना करना होगा।’’

इस बयान की आलोचना करते हुए AIUDF के नेता अमिनुल इस्लाम ने कहा कि मंत्री ने ऐसा बयान इसलिए दिया क्योंकि वह राज्य में कैंसर की रोकथाम में नाकाम रहे हैं।

गौरतलब है कि बी. बरूह कैंसर अस्पताल (बीबीसीएच) द्वारा किए गए एक अध्ययन में बताया गया है कि असम में कैंसर के मामलों की संख्या बढ़ रही है। उत्तर-पूर्व में असम केंसर से सबसे बुरी तरह प्रभावित राज्य है।

कैंसर को रोकने में राज्य की भाजपा सरकार की नाकामी बताते हुए कांग्रेस की स्थानीय इकाई ने ट्वीट कर कहा, “असम की भाजपा सरकार के स्वास्थ्य मंत्री का कैंसर जैसी बीमारी को लेकर दिया गया बयान बेहद बचकाना और असंवेदनशील है, इसी से पता चलता है कि भाजपा की नीयत अपनी ज़िम्मेदारियों से हमेशा भागने की रही है।”

 

कांग्रेसी नेता देबब्रत साइकिया ने कहा, ‘‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि स्वास्थ्य मंत्री ने कैंसर के मरीजों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाली टिप्पणियां कीं। उन्होंने यह टिप्पणी सार्वजनिक रूप से की है, मंत्री को इसके लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए।’’

वहीं आम आदमी पार्टी की सदस्य प्रीति शर्मा मेनन ने भी मंत्री के बयान की आलोचना की और उन्हें मुर्ख और एक बुरा व्यक्ति बताया।

 

Courtesy: boltahindustan.

Categories: India

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*