हरियाणा से ट्रक में भरकर गुजरात जा रही थी शराब, क्या चुनाव आते ही ‘शराबबंदी’ बेअसर हो जाती है ?

हरियाणा से ट्रक में भरकर गुजरात जा रही थी शराब, क्या चुनाव आते ही ‘शराबबंदी’ बेअसर हो जाती है ?

16 नवंबर, 2017 को गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी ने चुनाव आयोग से पड़ोसी भाजपा शासित राज्यों की सीमाओं पर पर्यवेक्षकों को तैनात करने का अनुरोध किया। कांग्रेस को संदेह था कि सत्तारूढ बीजेपी गुजरात चुनाव के लिए पड़ोसी राज्यों से शराब मंगा सकती है।

और अब एक ऐसी खबर सामने आयी है जो कांग्रेस के संदेह को बल प्रदान कर रही है। अलवर जिले एनएच-8 पर हरियाणा से गुजरात जा रहे अवैध शराब से भरे ट्रक को पुलिस ने जब्त किया है। इस ट्रक से करीब 25 लाख रुपये की अवैध शराब बरामद हुई है।

पुलिस के मुताबित इस शराब का इस्तेमाल गुजरात विधानसभा चुनाव में किया जाना था। बहरोड़ आबकारी पुलिस ने देर शाम को मुखबिर की सूचना पर शाहजहांपुर चेक पोस्ट पर नाकेबंदी कर हरियाणा की ओर से आ रहे ट्रक को रुकवाया और उसकी तलाशी ली।

ट्रक में आलूओं की बोरियां रखी हुई थीं और उनके नीचे शराब को छुपा कर रखा गया था ताकि चेकिंग होने पर सिर्फ आलू ही दिखाई दें। ट्रक की अच्छी तरह तलाशी ली गई जिसमें बोरियों के नीचे चंडीगढ़ मार्का की अवैध शराब भरी थी जो गुजरात ले जाई जा रही थी।

कांग्रेस ने भी ऐसी ही संभावना व्यक्त की थी। मुख्य चुनाव आयुक्त ए के जोती को लिखे पत्र में भरत सिंह सोलंकी ने संदेह जताया था कि ‘हमें अपने विश्वसनीय सूत्रों से बहुत परेशान करने वाला घटनाक्रम पता चला है कि भाजपा राज्य में महाराष्ट्र, राजस्थान और मध्यप्रदेश जैसे पड़ोसी भाजपा शासित राज्यों से बड़ी मात्रा में शराब लाने की योजना बना रही है।” सोलंकी ने पत्र की फोटो ट्वीटर पर पोस्ट की थी।

 

Courtesy: boltahindustan

Categories: India

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*