रैली न करने के लिए भाजपा ने ऑफर किए 5 करोड़ रुपये मगर ‘हार्दिक’ ने लाखों की भीड़ से दिया करारा जवाब

रैली न करने के लिए भाजपा ने ऑफर किए 5 करोड़ रुपये मगर ‘हार्दिक’ ने लाखों की भीड़ से दिया करारा जवाब

गुजरात में लगातार भाजपा पर चुनाव को प्रभावित करने के लिए पैसे के दुरुपयोग का आरोप लग रहा है। पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने दावा किया है कि सूरत में रैली न करने के एवज़ में किसी शख्स ने कॉल कर उन्हें 5 करोड़ रुपए ऑफर किए थे। उसने पूछा था कि तीन दिसंबर को सूरत न आने के लिए वो कितने पैसे लेंगे।

रविवार को ही हार्दिक पटेल ने सूरत में रैली की। इस रैली में लगभग दो लाख लोगों ने हिस्सा लिया। इतना जनसैलाब देखकर भाजपा परेशान है। हार्दिक पटेल ने इस सन्दर्भ में ट्वीट भी किया।

ट्वीट में हार्दिक ने अपनी रैली में उमड़े जनसैलाब के बारे बताया, साथ ही कहा कि ये रैली न करने के एवज़ में उन्हें करोड़ो की ऑफर मिली थी लेकिन उनका ईमान पैसे से नहीं खरीदा जा सकता।

सूरत की रैली में हार्दिक ने कहा कि भाजपा पर वार करते हुए कहा कि विकास का मतलब सिर्फ रिवर फ्रंट और लेक बनाना नहीं होता। विकास का मतलब है कि पेट्रोल के दाम कम किए जाएं, बस और ट्रेन के टिकट के दाम कम किए जाएं।
हार्दिक ने लोगों से कहा कि वे भाजपा, एनसीपी और निर्दलीय उम्मीदवारों के जाल में न फंसें। लोग मुहर हाथ पर लगाएं। हार्दिक ने रैली में आए लोगों से कहा कि वे अमरेली और भावनगर में रहने वाले अपने रिश्तेदारों से बीजेपी को वोट न देने के लिए कहें।

 

Courtesy: boltahindustan

Categories: India