नाराज़ पाटीदारों ने BJP कार्यकर्ताओं का चुनाव प्रचार रोका, हाथ से ‘झंडे और टोपियाँ’ लेकर फेंकी

नाराज़ पाटीदारों ने BJP कार्यकर्ताओं का चुनाव प्रचार रोका, हाथ से ‘झंडे और टोपियाँ’ लेकर फेंकी

गुजरात में भाजपा के विपरीत लहर चल रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और अमित शाह की रैलियों से जनता से मुँह मोड़ लिया है, इन दो नेताओं की रैलीयों में कुर्सियां तक नहीं भर पा रही हैं।

वहीं पाटीदार नेता हार्दिक पटेल की रैली में लाखों की तादाद में जनता जुट रही है। बीजेपी से इस कदर नाराज़गी का कारण नोटबंदी-जीएसटी और झूठे विकास के कारण गुजरातीयों के बड़े स्तर पर प्रभावित होना है।

अब जनता की बीजेपी को लेकर नाराज़गी बीजेपी कार्यकर्ताओं पर फुट रही है। सूरत के वाराचा में पटेल समुदाय की नाराज़गी बीजेपी कार्यकर्ताओं पर देखने को मिली।

यहाँ पटेलों ने बीजेपी के कार्यकर्ताओं के हाथ से ‘झंडे और टोपियाँ’ लेकर फेक दीं। बीजेपी कार्यकर्ताओं के हाथ से झंडे और टोपियाँ लेकर फेकने की वीडियो कैमरे में कैद हो गई।

गौरतलब है कि गुजरात की सड़कों पर पटेल और दलित समाज सबसे ज्यादा रोड पर उतरकर सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं,हर मोर्चे पर उनकी खिलाफत कर रहे हैं, हालांकि इस बार उनके विरोध के तरीके में ज्यादा उग्रता थी , जो शोभनीय नहीं है।

जहाँ बीजेपी चुनाव में 150 से ज्यादा सीटें जीतने का दावा कर रही थी, ABP-CSDS पोल में उसके सारे दावे फेल हो गए हैं। पोल के मुताबिक कांग्रेस और बीजेपी को 43% का बराबर वोट शेयर मिल रहा है।
जबकि पूरे देश में गुजरात मॉडल को बताकर बीजेपी ने सरकारें बनाईं, लेकिन खुद गुजरात की जनता को बीजेपी ‘विकास’ नहीं दे सकी है।

Courtesy: boltahindustan

Categories: India

Related Articles