अस्पताल न बना सके, मासूम बच्चे मर गए मगर गुजरात चुनाव में योगी ‘राम मंदिर’ बनाने की बात करते हैं : अलका लांबा

अस्पताल न बना सके, मासूम बच्चे मर गए मगर गुजरात चुनाव में योगी ‘राम मंदिर’ बनाने की बात करते हैं : अलका लांबा

6 दिसम्बर को बाबरी मस्जिद और राम मंदिर विवाद को 25 वर्ष हो गए, अयोध्या में सब कुछ सामान्य रहने के बावजूद इसे लेकर राजनीतिक बयान लगातार आ रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुजरात दौरे पर हैं, उन्होंने राम मंदिर का राग अलापना गुजरात विधानसभा चुनाव में भी जारी रखा है। योगी ने बनासकांठा जिले में कहा, “राहुल गाँधी राम मंदिर पर अपना रुख साफ़ करें, राहुल गाँधी अयोध्या में राम मंदिर चाहते हैं या नहीं?”

दिल्ली से आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा ने सीएम योगी के बयान को लेकर करारा पलटवार किया है। उन्होंने कहा, “इस योगी, सत्ता के भोगी को BRD अस्पताल, गोरखपुर पहुँचाने वाले को इनाम में भगवान श्री राम जी की मूर्ति भेट की जायेगी।”

बता दें बीआरडी अस्पताल में अगस्त महीने में 418, सितम्बर महीने में 431, अक्टूबर महीने में 457 और नवंबर महीने में 266 बच्चों की मौत हो चुकी है फिर भी प्रदेश का मुख्यमंत्री दूसरे राज्य में जाकर राहुल गाँधी से पूछ रहा है की राम मंदिर बनना चाहिए या नहीं!

 

 

अब तक कुल मिलाकर गोरखपुर के इस अस्पताल में 1572 बच्चों की मौत हो चुकी है। इसमें 30 नवंबर के बाद के आकड़े नहीं शामिल हैं।

दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नीच शब्द को ‘नीच जाति’, एक शिष्टाचार भेंट को ‘गुजरात चुनाव में पाकिस्तान का हाथ’ बता रहे हैं। इससे समझा जा सकता है कि बीजेपी के पास ‘गुजरात मॉडल’ का आभाव है, ये वही गुजरात मॉडल है जिसका डंका प्रधानमंत्री अमेरिका तक बजा कर आए हैं!

पीएम नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गुजरात में बीजेपी के लिए चुनावी रैलियां करने पर विपक्ष सवाल कर रहा है कि इन्हें देश की जनता की चिंता नहीं है जो गुजरात में जाकर कई दिनों से डेरा जमाए हुए हैं।

वैसे देश की जनता ने नरेन्द्र मोदी को देश का प्रधानमंत्री चुना है और योगी को यूपी का मुख्यमंत्री। लेकिन यह दोनों नेता अपनी पार्टी की सेवा कर रहे हैं।

 

Courtesy: boltahindustan

Categories: Politics