गुजरात चुनाव: भविष्यवाणी करने के लिए योगेंद्र यादव पर एंकर ने उठाए सवाल, मिला जवाब- कई पत्रकार हैं जो बीजेपी से लेते हैं पैसा

गुजरात चुनाव: भविष्यवाणी करने के लिए योगेंद्र यादव पर एंकर ने उठाए सवाल, मिला जवाब- कई पत्रकार हैं जो बीजेपी से लेते हैं पैसा

गुजरात विधानसभा चुनाव के तहत दूसरे चरण का मतदान गुरुवार (14 दिसंबर) को चल रहा है। मतदान से कुछ ही घंटे पहले राजनैतिक विश्‍लेषक व स्वराज इंडिया पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने चुनाव परिणाम का अनुमान लगाया। उन्‍होंने ट्विटर पर जो तीन मुमकिन परिणाम बताए हैं, तीनों में ही भाजता सत्‍ता से बाहर होती दिख रही है और कांग्रेस को स्‍पष्‍ट बहुमत मिल रहा है। हालांकि इन्‍हीं अनुमानों पर जब न्‍यूज18 चैनल पर बहस हुई तो एंकर भूपेंद्र चौबे ने योगेंद्र के दावे पर सवाल उठाए। चौबे ने कहा, ”आपको राजनेता कहने पर आप आपत्ति जताते रहे हैं। जैसे-जैसे हम 2019 की तरफ बढ़ रहे हैं। जो गैप है कि आप मोदी के साथ है या नहीं, क्‍या ये और बढ़ेगा?” इस पर योगेंद्र ने जवाब दिया, ”मेरी आपत्ति आपके मुझे राजनेता बुलाने से नहीं है, मैं राजनेता हूं ही। मेरी आपत्ति ये है आप ये मन बना चुके हैं राजनेता झूठ बोलते हैं। आप जानते हैं भूपेंद्र, दिल्‍ली में बहुत सारे पत्रकार हैं जिन्‍होंने पाला बदल लिया है, जो पे-रोल पर हैं, जो हिदायत लेते हैं कि शाम को कार्यक्रम कैसे किया जाए।” इसपर चौबे हंसने लगे। योगेंद्र ने आगे कहा, ”लेकिन इस आधार पर मैं ये नहीं कह सकता कि सभी पत्रकार चोर हैं, यह गलत होगा। अगर आपको चीजें बतानी ही थीं तो आप बताते कि मैंने बिहार में क्‍या बोला।” भूपेंद्र ने पूछा कि आपने बिहार में क्‍या कहा था, तो जवाब में योगेंद्र ने कहा, ”आपने मुझपर इतना रिसर्च किया है तो पूरा रिसर्च क्‍यों नहीं करते? अच्‍छी पत्रकारिता हमेशा काम आती है।”

फिर भूपेंद्र ने कागजात देखते हुए कहा, ”आपने 9 सितंबर, 2009 को इंटरव्‍यू में कहा था कि नीतीश कुमार एक बेबस राजनेता है। आपने ये भी कहा था कि बीजेपी बिहार में बड़ी ताकत बनकर उभरेगी और अब 2017 में आप ये कह रहे हैं।” योगेंद्र ने टोकते हुए कहा, ”भूपेंद्र मैंने बिहार के लिए भविष्‍यवाणी की थी। आप बेसिक रिसर्च भी नहीं करते हैं। क्‍या आप वो भविष्‍यवाणी शेयर करेंगे?” इस पर भूपेंद्र ने कहा कि ”नाराज मत होइए। मैं ये कह रहा हूं कि आपके पास भविष्‍यवाणी करने का अधिकार नहीं है क्‍योंकि आप एक राजनेता हैं। आप दो चीजों को एक में मिलाने की कोशिश मत करिए।”

योगेंद्र यादव ने बीच में बोलते हुए कहा कि ”अगर अमित शाह और मोदी के पास अधिकार है कि वो भविष्‍यवाणी कर सकते हैं। मैं इस देश का नागरिक हूं और मुझे अपनी बात कहने का अधिकार है।” इसके बाद भूपेंद्र ने कहा, ”मैं देख रहा हूं कि लोग आपकी भविष्‍यवाणी को चुनौती दे रहे हैं इसलिए मैं कहना चाहूंगा कि आप एक विश्‍लेषक नहीं, राजनेता हैं।” फिर योगेंद्र ने कहा, ”मुझे आपका एजेंडा दिख रहा है।”

Courtesy: Jansatta

Categories: India

Related Articles