महेंद्र सिंह धोनी या क्रिस गेल नहीं हूं, टाइमिंग पर करता हूं फोकस: रोहित शर्मा

महेंद्र सिंह धोनी या क्रिस गेल नहीं हूं, टाइमिंग पर करता हूं फोकस: रोहित शर्मा

नई दिल्ली
टीम इंडिया के हिटमैन रोहित शर्मा ने मोहाली वनडे में श्री लंका के खिलाफ शानदार दोहरा शतक जड़ा जो वनडे करियर की उनकी तीसरी डबल सेंचुरी है। बीसीसीआई ने ट्विटर पर एक विडियो शेयर किया है जिसमें मैच के बाद रोहित शर्मा से टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री सवाल कर रहे हैं। श्री लंका के खिलाफ वनडे सीरीज में विराट कोहली को आराम दिया गया है और कप्तानी रोहित शर्मा संभाल रहे हैं।

मैच के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री ने रोहित से पूछा कि आप तीन में से इस डबल सेंचुरी को कहां रेट करेंगे। रोहित ने इस पर कहा, ‘मुझे लगता है कि किसी एक को पसंदीदा बताना काफी मुश्किल होगा। तीनों ही मेरे लिए काफी खास हैं और हर बार मैंने डबल सेंचुरी मुश्किल मौकों पर जड़ी है।’

30 वर्षीय भारतीय ओपनर ने कहा, ‘ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2013 में जब 209 रन बनाए तो वह मैच सीरीज का निर्णायक था। श्री लंका के खिलाफ साल 2014 में जब 264 रन की पारी खेली थी, उससे पहले 3 महीने तक मैं चोट से जूझ रहा था। तब मैदान पर उतरने से पहले मैं सोच रहा था कि क्या मैं रन भी बना सकूंगा या नहीं।’ रोहित ने कहा, ‘मोहाली में मेरी कोशिश अंत तक मैदान पर टिके रहने की थी और मैं यही सोच कर उतरा था कि जितनी देर हो सके, मैदान पर टिके रहूंगा। मैं जानता था कि विकेट शानदार है और आउटफील्ड बेहद तेज है।’ रोहित ने 153 गेदों की अपनी नाबाद पारी में 13 चौके और 12 छक्के जड़े।

शास्त्री ने कहा कि यह देश के सबसे बड़े मैदानों में से एक है और आप हर कोने में शॉट लगा रहे थे तो रोहित ने इस पर जवाब दिया, ‘इसका काफी श्रेय टीम इंडिया के ट्रेनर शंकर बासु को जाता है कि वह हमारे साथ काफी मेहनत करते हैं। आप जानते हैं कि मेरी ताकत गेंद को समय देकर खेलने की है। मैं इसी पर फोकस कर रहा था। मैं जानता हूं कि मैं एम.एस. धोनी या क्रिस गेल की तरह नहीं हूं जो मेरे पास इतनी ज्यादा पावर हो लेकिन मैं टाइमिंग पर भरोसा करता हूं जो मैंने इस मैच में किया भी।’

शॉट चयन पर हिटमैन के नाम से मशहूर रोहित शर्मा ने कहा, ‘मैंने सीरीज की शुरुआत में ही कहा था कि हमारे सामने चुनौतियां होंगी। शिखर धवन ने पारी की शानदार शुरुआत की थी और हम दोनों के बीच अच्छी साझेदारी हुई। वह बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं और मेरा मानना है कि ‘लेफ्टी-राइटी’ कॉम्बिनेशन भी काफी फायदेमंद साबित हुआ।’
Courtesy:NBT

Categories: Sports