यूपी: डेरा सच्चा सौदा जैसा एक और कांड, आश्रम में बंधक बना रखी गई लड़कियां, दुष्कर्म और मारपीट

यूपी: डेरा सच्चा सौदा जैसा एक और कांड, आश्रम में बंधक बना रखी गई लड़कियां, दुष्कर्म और मारपीट

डेरा सच्चा सौदा समिति और बाबा राम रहीम के कुकर्मों की ही तरह उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में स्थित एक आश्रम में रेप और मारपीट की शिकायतें मिली हैं। आश्रम में रह रही चार महिला श्रद्धालुओं ने आरोप लगाया है कि बाबा सच्चिदानंद और उसके गुर्गे आश्रम में रह रही महिलाओं का जबरन यौन शोषण करते हैं और विरोध करने पर उनसे मारपीट करते हैं। पीड़ित महिलाओं की शिकायत पर बस्ती पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर ली है। इस बीच बाबा सच्चिदानंद गुर्गों समेत फरार हो गया है। जिले के पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने समाचार एजेंसी एएनआई को इस बात की पुष्टि की है और कहा है कि कुछ महिलाओं ने आश्रम में दुष्कर्म की शिकायतें की हैं। उन्होंने बताया कि एफआईआर दर्ज कर आगे की कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

इधर, कुछ पीड़ित युवतियों ने कहा है कि वो छत्तीसगढ़ की रहने वाली है और साल 2008 में 12 साल की उम्र में आश्रम लाई गई थी। पीड़िता ने कहा कि उसे गलत काम करने को कहा जाता है लेकिन जब वो मना करती है तो कई बाबा मिलकर दुष्कर्म करते हैं और मारपीट करते हैं। पीड़िता के मुताबिक उन्हें बंधक बनाकर रखा गया है। पीड़िता ने बताया कि यह सिलसिला काफी पुराना है। उसने यह भी बताया कि इस बाबा के देशभर में कई आश्रम हैं।

आश्रम का नाम संत कुटीर आश्रम है और आश्रम में रह रही साध्वियों ने जिन बाबाओं पर आरोप लगाया है उनमें आश्रम के मालिक सच्चिदानंद और उनके गुर्गे परम चेतानंद, विश्वासानंद और ज्ञान बैराग्यानंद शामिल हैं। पीड़िताओं में दो छत्तीसगढ़ और दो बस्ती की ही रहने वाली है। चारों पीड़िताओं ने भागकर एसपी ऑफिस में अपनी फरियाद सुनाई। इनका आरोप है कि इनके साथ दुष्कर्म किया जाता था और मना करने पर रस्सी से बांधकर मारपीट की जाती थी।

पीड़िता के मुताबिक आश्रम की प्रमिला बाई और कमला बाई लड़कियों को बहला फुसला कर शोषण के लिए बाबा को परोसती है। इस दौरान जो लड़कियां विरोध करती हैं, उससे मारपीट की जाती है और जबरन दुष्कर्म किया जाता है। इधर, आश्रम के संचालक ने सफाई दी है कि महिलाओं के आरोप निराधार हैं। उन्हें पैसों की हेराफेरी के आरोप में आश्रम से निकाला जा चुका है।

 

 Courtesy: Jansatta
Categories: India

Related Articles