जिस मैक्स अस्पताल का लाइसेंस केजरीवाल ने रद्द कर दिया था भाजपाइयों ने सांठ-गांठ करके बहाल करा लिया!

जिस मैक्स अस्पताल का लाइसेंस केजरीवाल ने रद्द कर दिया था भाजपाइयों ने सांठ-गांठ करके बहाल करा लिया!

हाल ही में दिल्ली के शालीमार बाग़ स्थित मैक्स अस्पताल का लाइसेंस रद्द कर दिया गया था जिसे अब फिर से बहाल कर दिया गया है। गौरतलब है कि अस्पताल ने जीवित नवजात बच्चे को मृत घोषित कर दिया था। इसके अलावा भी अन्य कई अनियमितताओं के कारण दिल्ली की ‘आप’ सरकार ने लाइसेंस रद्द कर दिया गया था।

इसके बाद ये मामला दिल्ली अपीलीय प्राधिकरण वित्तीय आयुक्त के पास गया जिसके बाद अस्पताल को फिर से बहाल कर दिया गया है। इस पर विवाद हो गया है। दिल्ली के भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आरोप लगाया कि वित्तीय आयुक्त दिल्ली सरकार के अंतर्गत आते हैं और इन्होने किसी डील के तहत अस्पताल को फिर से बहाल किया है।

दूसरी तरफ ‘आप’ प्रवक्ता सौरव भारद्वाज ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि वित्तीय आयुक्त दिल्ली सरकार नहीं बल्कि उपराज्यपाल के अंतर्गत आते हैं। उन्होंने वहां एक दस्तावेज़ भी दिखाया जिसके मुताबिक वित्तीय आयुक्त उपराज्यपाल के अंतर्गत ही आते हैं।

सौरव ने कहा कि जब दिल्ली सरकार ने मैक्स का लाइसेंस रद्द किया था तब भाजपा नेता मनोज तिवारी ही काफी विचलित नज़र आ रहे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि अस्पताल को मनोज तिवारी ने ही अपने राजनीतिक प्रभाव से बहाल कराया है।

उन्होंने आगे कहा कि अगर उन्हें लगता है कि इसमें दिल्ली सरकार का हाथ है तो मैं उपराज्यपाल से अपील करता हूँ कि वो अभी के अभी वित्तीय आयुक्त को बर्खास्त कर दें।

 

Courtesy: boltahindustan

Categories: India