कांग्रेस की 49% FDI का विरोध करते करते भाजपा ने लगा दिया 100% FDI, CM मोदी सही थे या PM मोदी ?

कांग्रेस की 49% FDI का विरोध करते करते भाजपा ने लगा दिया 100% FDI, CM मोदी सही थे या PM मोदी ?

मोदी सरकार ने बुधवार को सिंगल ब्रांड रीटेल (एकल ब्रांड खुदरा कारोबार) सहित विभिन्न क्षेत्रों के लिये प्रत्यक्ष विदेशी निवेश नीति (एफडीआई) को मंज़ूरी दी है। बता दें, कि अब तक 49 फीसदी विदेशी निवेश को ही मंज़ूरी थी और सिंगल ब्रांड रीटेल में 100 फीसदी एफडीआई को मंजूरी थी।

केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने सरकारी एयरलाइन्स कंपनी एयर इंडिया में भी विदेशी एयरलाइंस को 49 प्रतिशत तक हिस्सेदारी खरीदने के प्रावधान वाले प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी है।

मोदी सरकार की इस आर्थिक नीतियों पर सवाल उठ रहे हैं। गौरतलब है कि स्वयं पीएम नरेंद्र मोदी सत्ता में आने से पहले एफडीआई समेत ऐसी कई नीतियों के खिलाफ थे जिनकों उन्होंने सत्ता में आने के बाद मंज़ूरी दी है।

बता दें, कि उस समय यूपीए सरकार द्वारा 49% एफडीआई लागू करने के फैसले को नरेंद्र मोदी ने देश को विदेशियों के हाथों बेचना बताया था।

सत्ता से बाहर और सत्ता में आ जाने पर नीतियों में इस विरोधाभास को लेकर लोग सोशल मीडिया पर सवाल कर रहे हैं।

साक्षी जोशी नामक यूजर्स ने ट्वीट कर कहा कि यूपीए में जो निराधार था वो इनकी सरकार आकर आधार बना।

जीएसटी, जो एकदम बकवास था वो अब जाकर दूध से धुला। 49% FDI जो देश को बेच रहा था वो अब 100% होते ही राष्ट्रभक्ति की श्रेणी में आ गया। मतलब क्या ये सिर्फ़ हमें मूर्ख समझ रहे हैं या हम वाक़ई हैं भी।

लालूप्रसाद यादव नाम से चल रहे एक ट्विटर हैंडल ने ट्वीट किया कि 2012, 2013, 2014 से 49% FDI का विरोध करने वाले को नरेन्द्र कहते हैं और 2018 आते आते उसी FDI का 100% कर दे उसे ठगेन्द्र कहते हैं।

एक ट्वीटर अकाउंट ने पीएम मोदी के पुराने ट्वीट की तस्वीर डालते हुए, जिसमें वो FDI का विरोध कर रहे हैं, व्यंगात्मक रूप से लिखा कि मुख्यमंत्री मोदी हमेशा प्रधानमंत्री मोदी के विरोध में खड़े दिखते हैं। सलाम है इन्हें।

 

Courtesy: boltahindustan.

Categories: India

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*