हैवानियत की हदें पार : चलती कार में 2 घंटे तक लड़की से किया गैंगरेप, और फिर…

हैवानियत की हदें पार : चलती कार में 2 घंटे तक लड़की से किया गैंगरेप, और फिर…

फरीदाबाद। कामकाजी महिलाओं की सुरक्षा को लेकर एक बार फिर कानून व्यवस्था पर प्रश्नचिन्ह लग गया है। उन्हें अपनी हवस का शिकार बनाने के लिए इंसान के रुप में दरिन्दें सड़को पर खुलेआम घूम रहे हैं। कुछ ऐसे ही दरिन्दों ने शनिवार की शाम काम से अपने घर लौट रही एक 23 साल की लड़की के साथ चलती हुई कार में गैंगरेप किया। रेप के बाद उसे बीच रास्ते पर ही चलती हुई गाड़ी से फेंककर आरोपी फरार हो गए।

कुछ इस तरह हुई वर्किंग वूमेन के साथ हैवानियत

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक सेक्टर-16 स्थित एक कार्यालय में काम करने वाली एनआइटी क्षेत्र निवासी युवती शनिवार देर शाम छुट्टी होने पर बुआ के लड़के से फोन पर बात करते हुए घर लौट रही थी। फरीदाबाद, राजीव चौक पुलिस चौकी से सौ मीटर की दूरी पर एक स्कॉर्पियो उसके पास आकर रुकी। उसमें से उतरे तीन बदमाशों ने युवती को जबरन गाड़ी में डाला और गाड़ी भगाने लगे। इस दौरान युवती का फोन चालू था। फोन पर युवती की चीख सुनकर उसकी बुआ के लड़के ने परिजनों और पुलिस को घटना की सूचना दी।

युवती के अनुसार करीब 22 से 25 साल के ये हवस के पुजारी चलती हुई गाड़ी में लगभग 2 घंटे तक उसका जिस्म नोंचते रहे। उन पर उसकी चीखों व गिड़गिड़ाने का कोई असर नहीं हुआ। जब उनका मन भर गया तो वो दरिन्दे उसे सीकरी के पेट्रोलपंप के पास चलती हुई गाड़ी से ही फेंक कर भाग गये। उनके जाने के बाद युवती ने परिजनों को फोन पर घटना के बारे में बताया। युवती के हाथ और सिर में चोट भी आई है। युवती के अनुसार कार पिछली सीट पर तीन लोगों ने बेहरहमी से उसके साथ गैंगरेप किया।

पुलिस ने शुरु की अपनी कार्रवाई

पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर शहर में जगह-जगह नाकेबंदी कर दी है। आरोपियों को पकडऩे के लिए एसआईटी का गठन भी किया गया है। एसआईटी का नेतृत्व क्राइम ब्रांच की पूजा डाबला कर रही हैं। उनके अलावा सेक्टर 30 प्रभारी इंस्पेक्टर सतेंदर रावल, क्राइम ब्रांच सेक्टर 85 प्रभारी इंस्पेक्टर राजेंद्र और थाना प्रबंधक ओल्ड, इंस्पेक्टर राजवीर सिंह के नेतृत्व में अलग-अलग टीमें बनाकर मामले जांच की जा रही है।

 

Courtesy: puridunia

Categories: Crime

Related Articles