Ind VS SA: सेंचुरियन में भारतीय टीम को इस रणनीति के तहत खेलना होगा, तभी मिलेगी जीत

Ind VS SA: सेंचुरियन में भारतीय टीम को इस रणनीति के तहत खेलना होगा, तभी मिलेगी जीत

सेंचुरियन: सेंचुरियन में चल रहे दूसरे टेस्ट मैच में भारत पर हार का खतरा मंडरा रहा है. भारतीय टीम ने 287 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए अपने शुरुआती तीन विकेट खो दिए हैं. भारतीय टीम ने दोनों ओपनर मुरली विजय और लोकेश राहुल के अलावा कप्तान विराट कोहली का अहम विकेट भी गंवा दिया है. विराट कोहली से उम्मीदें ज्यादा थीं, क्योंकि उन्होंने पहली पारी में शतकीय पारी खेली थी. लेकिन क्रिकेट को अनिश्चितताओं का खेल कहा जाता है और यहां कभी भी कुछ भी हो सकता है. भारतीय टीम के बाकी बल्लेबाजों ने अगर रणनीति बनाकर बल्लेबाजी की तो यह लक्ष्य टीम पा सकती है. क्रीज पर अभी चेतेश्वर पुजारा और पार्थिव पटेल बल्लेबाजी कर रहे हैं. टीम के बाकी बल्लेबाजों ने अगर साझेदारियों पर ध्यान दिया तो टीम इंडिया मैच जीत सकती है. पिच में कम-ज्यादा उछाल को देखकर क्रिकेट पंडितों का मानना है कि भारत के लिए यह मैच बचाना मुश्किल होगा.

भारतीय टीम अभी भी लक्ष्य से 252 रन दूर है, जबकि उसे पांचवें दिन के करीब 90 ओवरों का सामना करना है. भारत के सात विकेट सुरक्षित हैं. चौथे दिन स्टम्पस तक चेतेश्वर पुजारा (11) और पार्थिव पटेल (5) रनों पर नाबाद लौटे. पुजारा ने 40 गेंदों का सामना कर एक चौका लगाया है. मुश्किल विकेट पर भारत ने 26 रनों पर ही अपने तीन विकेट गंवा दिए थे. आउट होने वाले बल्लेबाजों में सलामी बल्लेबाज मुरली विजय (9) और लोकेश राहुल (4) तथा कप्तान विराट कोहली (5) शामिल हैं. विजय को 11 के कुल योग पर कगीसो रबादा ने बोल्ड किया. विजय ने 25 गेंदों का सामना कर एक चौका लगाया. इसके बाद 16 के कुल योग पर लुंगी नगीदी ने केशव महाराज के हाथों राहुल को कैच कराकर भारत को दूसरा झटका दिया. राहुल ने 29 गेंदों का सामना किया.

पहली पारी में शानदार शतक लगाकर भारत को मुश्किल से निकालने वाले कप्तान कोहली पांच रन बनाकर आउट हुए. उन्हें नगीदी ने पगबाधा आउट किया. कोहली ने 20 गेंदों पर एक चौका लगाया. इससे पहले, डीन एल्गर (61) और अब्राहम डिविलियर्स (80) की शतकीय साझेदारी के दम पर दक्षिण अफ्रीका भारत को 287 रनों का लक्ष्य दिया. दक्षिण अफ्रीका ने अपनी दूसरी पारी में 258 रन बनाए. एल्गर और डिविलियर्स के अलावा, मेजबान टीम के लिए कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने 48 रनों का अहम योगदान दिया. वर्नोन फिलेंडर ने भी 26 रन जोड़े. इस योगदान के साथ ही प्लेसिस ने टेस्ट क्रिकेट में अपने 3,000 रन पूरे कर लिए हैं.

इस पारी में भारत के लिए मोहम्मद शमी ने सबसे अधिक चार विकेट लिए, वहीं जसप्रीत बुमराह ने तीन विकेट हासिल किए. इशांत शर्मा को दो सफलता मिली है. अश्विन भी एक विकेट लेने में सफल रहे. तीन मैचों की सीरीज में भारत 0-1 से पीछे है. उसे केपटाउन में हुए पहले मैच में हार मिली थी. अब देखना होगा कि भारतीय टीम के बाकी बल्लेबाज साझेदारियां कर भारत को मैच जीता पाते हैं या नहीं. अगर भारत यह मैच हार गया तो सीरीज भी हार जाएगा.

Courtesy: NDTV

Categories: Sports

Related Articles