योगी सरकार में भ्रष्टाचार को लेकर बीजेपी विधायक ने ही उठाया सवाल, कहा, तहसील में बिना रिश्वत नहीं होता काम

योगी सरकार में भ्रष्टाचार को लेकर बीजेपी विधायक ने ही उठाया सवाल, कहा, तहसील में बिना रिश्वत नहीं होता काम

भ्रष्टाचार को लेकर योगी सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति फिर से सवालों के घेरे में है। बीजेपी के ही विधायक दीनानाथ भास्कर ने कहा कि जिले की तहसीलों में किसी का काम बिना रिश्वत लिए नहीं होता है।

केंद्र और यूपी में जीरो टॉलरेंस की नीति से काम करने का दम भरने वाली बीजेपी सरकार के खिलाफ उनके ही विधायक ने मोर्चा खोल दिया है। औराई से बीजेपी विधायक दीनानाथ भास्कर ने आरोप लगाया है कि प्रदेश की तहसीलों में भ्रष्टाचार का बोलबाला है।

उन्होंने कहा कि जिले की तहसीलों में में फरियादियों का काम बिना रिश्वत लिए नहीं होता है। उन्होंने आगे कहा कि चाहे विरासत की रजिस्ट्री दर्ज करानी हो या फिर तहसील में कोई भी काम कराना हो, अधिकारी और कर्मचारी बिना सुविधा शुल्क लिए काम नहीं करते हैं।

दीनानाथ भास्कर ने कहा, “तमाम शिकायतों के बाद भी कोई कार्रवाई न होने पर मुझे समर्थकों के साथ औराई तहसील में धरने पर बैठना पड़ा।”

 

इसे लेकर विधायक दीनानाथ भास्कर पार्टी के कई नेताओं समेत धरने पर बैठ गए हैं। विधायक का आरोप है कि उनके पास क्षेत्र की जनता आकर पिछले कई दिनों से शिकायत कर रही है कि औराई तहसील, ब्लॉक और थाना पूरी तरह भ्रष्टाचार में लिप्त हैं और जमीन की नपाई, विरासत दर्ज करना सहित तमाम कार्यो में खुलेआम पैसे लिए जा रहे हैं।

विधायक का कहना है कि सरकार की मंशा है कि सरकारी दफ्तर भ्रष्टाचार मुक्त हों, लेकिन ऐसा हो नहीं रहा है। निचले स्तर के अधिकारी और कर्मचारी नही सुधर रहे हैं, इसलिए मजबूरन उन्हें धरने पर बैठना पड़ा है।

Courtesy: Navjeevan

Categories: India

Related Articles