नोटबंदी के 15 महीने बाद भी जारी है पुराने नोटों की गिनती

नोटबंदी के 15 महीने बाद भी जारी है पुराने नोटों की गिनती

रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया ने कहा कि 15 महीने पहले नोटबंदी के ऐलान के बाद जो उच्च मूल्य के मुद्रा 500 और 1000 रूपये के नोट जमा कराए गए थे उनकी गिनती अभी भी जारी है। ताकि, उनकी संख्या के सही आकलन और सटीकता का पता लगाया जा सके। सेंट्रल बैंक के मुताबिक, यह काम काफी तेज़ी के साथ चल रहा है।

पीटीआई संवाददाता की तरफ से लगाई गए आरटीआई आवेदन के जवाब में आरबीआई ने कहा- कुछ विशेष बैंकों के नोट्स को संख्या और सटीकता के लिहाज गिनती की जा रही है और इसके पूरा होने के बाद ही इस बारे में जानकारी साझा की जा सकेगी।

इसमें आगे कहा गया है कि अनुमानित विशेष नोट 30 जून 2017 तक 15.28 ट्रिलियन (लाख करोड़) रुपये प्राप्त हुए। जब यह पूछा गया कि कोई निश्चिम समय-सीमा बताएं जिसमें पुराने नोटों की गिनती पूरी हो जाए। इसके जवाब में आरबीआई ने कहा कि नोटों की गिनती का काम काफी तेज़ी के साथ किया जा रहा है।

Courtesy: Hindustan

Categories: Finance

Related Articles