अमेरिका : स्कूल में अंधाधुंध फायरिंग, 17 छात्रों की मौत, दर्जनों घायल

अमेरिका : स्कूल में अंधाधुंध फायरिंग, 17 छात्रों की मौत, दर्जनों घायल

न्यूयार्क। अमेरिका के के फ्लोरिडा में एक स्कूल में फायरिंग हुयी है। इस फायरिंग में तक 17 छात्रों के मरने की पुष्टि हुई है।  बताया जा रहा है कि 19 साल के छात्र ने स्कूल में अंधाधुंध फायरिंग करनी शुरू कर दी। घटना में कई छात्र घायल भी हुए हैं। पुलिस का कहना है कि मरने वालों की संख्या बढ़ भी सकती है।

मिली जानकारी के मुताबिक, स्कूल में गोलीबारी करीब 1.30 बजे रात में शुरू हुई। गोलीबारी शुरू होने के बाद छात्रों को हाथ ऊपर कर के स्कूल से बाहर आते भी देखा गया है। लाइव टेलीविजन फुटेज में देख सकते हैं गोलाबारी के समय छात्र स्कूल से बाहर भागते नजर आ रहे हैं।

पुलिस ने हमलावर को गिफ्तार कर लिया है। हमलावर की की पहचान 19 साल के निकोलस क्रूस के तौर पर हुई है। यह स्कूल का पूर्व छात्र है। पुलिस के मुताबिक, फायरिंग में मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। फिलहाल पुलिस और सुरक्षाबलों ने स्कूल को घेर लिया है और जांच कर रही है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने फ्लोरिडा के स्कूल में हुई गोलीबारी पर शोक जताया है।  ट्रंप ने ट्वीट कर लिखा कि मैंने गवर्नर रिक स्कॉट से बात की है।  कानूनी एजेंसियों के साथ मिलकर हम पूरी तत्परता के साथ काम कर रहे हैं।  अमेरिकी राष्ट्रपति ने लिखा कि घटना में मारे गए लोगों और परिवार के साथ मेरी पूरी संवेदना है।  किसी भी बच्चे, टीचर या किसी और को अमेरिकी स्कूलों में असुरक्षित नहीं महसूस होना चाहिए।

जानकारी के मुताबिक, यह दर्दनाक घटना मियामी से करीब 72 किमी दूर पार्कलैंड इलाके में स्थित मारजोरी स्टोनमैन डगलस हाई स्कूल में हुयी है।  जैसे ही स्कूल छुट्टी होने वाली थी वैसे ही एक पूर्व छात्र बन्दूक लेकर पहुंचा और अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी।

आरोपी छात्र को किसी कारण से कुछ सैलून पहले स्कूल से निकला दिया गया था। गोलीबारी में 12 छात्रों की मौत स्कूल के अंदर हुई, 2  छात्रों की मौत स्कूल बिल्डिंग के बाहर हुई। जबकि तीन छात्रों ने अस्पताल ले जाने के दौरान दम तोड़ा।

व्हाइट हाउस ने एक बयान में कहा कि राष्ट्रपति को फोर्ट मीडे में गोलीबारी होने की जानकारी दी गई है।  इसमें कहा गया है कि हमारी संवेदनाएं और दुआएं उन सभी के साथ है जो इस हमले में प्रभावित हुए हैं।

Courtesy: puridunia.

Categories: International