दिल्ली: 1 साल के अंदर ही अरविंदर सिंह लवली का BJP से मोहभंग, दोबारा कांग्रेस का थामा ‘हाथ’

दिल्ली: 1 साल के अंदर ही अरविंदर सिंह लवली का BJP से मोहभंग, दोबारा कांग्रेस का थामा ‘हाथ’

दिल्ली में नगर निगम (एमसीडी) चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस छोड़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का दामन थामने वाले कद्दावर नेता अरविंदर सिंह लवली की घर वापसी हो गई है। वह 9 महीने के भीतर ही बीजेपी छोड़ एक बार फिर कांग्रेस में वापस आ गए हैं। दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली शनिवार (17 फरवरी) को फिर कांग्रेस में शामिल हो गए। पिछले साल उन्होंने बीजेपी में शामिल होने के लिए कांग्रेस पार्टी छोड़ दी थी।

@INCIndia

लवली शीला दीक्षित सरकार में मंत्री रह चुके हैं। उन्होंने शनिवार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की। इससे पहले वह दिल्ली कांग्रेस के प्रमुख अजय माकन से भी मुलाकात कर चुके थे। माकन के साथ ही दिल्ली इकाई के अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रभारी पीसी चाको ने लवली का पार्टी में एक बार फिर से स्वागत किया।

Also Read:  सुप्रीम कोर्ट ने 24 हफ्ते की गर्भवती महिला को दी गर्भपात की अनुमति

अरविन्दर सिंह लवली के अलावा हारून यूसुफ़ और अमित मलिक भी वापस कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए हैं। बता दें कि पिछले साल 18 अप्रैल को दिल्ली में नगर निगम चुनाव से ठीक पहले लवली अजय माकन से नाराज होकर कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हो गए थे। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने खुद उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई थी।

बता दें कि लवली दिल्ली कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष रह चुके हैं। पिछला विधानसभा चुनाव कांग्रेस ने लवली के नेतृत्व में ही लड़ा था। अरविंदर सिंह कांग्रेस नेतृत्व के भी बेहद करीब माने जाते हैं। लवली दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के बेहद करीबी और शीला सरकार में मंत्री भी रहे हैं। लवली दिल्ली की गांधी नगर सीट से विधायक रहे हैं।

 

कांग्रेस के पूर्व मंत्री और कद्दावर नेता अरविंद लवली एमसीडी चुनाव में टिकट बंटवारे से नाराज थे। लवली ने दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन द्वारा की जा रही अनदेखी से नाराज होकर पार्टी छोड़ी थी। लवली दिल्ली में कांग्रेस के मुख्य चेहरों में शामिल थे और सिख समुदाय के बीच उनकी अच्छी पैठ माना जाती है।

सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि अप्रैल, 2017 में भाजपाई हुए नेता अरविंदर लवली ने पिछले दिनों कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी, जिसके बाद ही उन्होंने कांग्रेस में वापसी का फैसला किया। फिर शनिवार को उन्होंने घर वापसी कर ली। कांग्रेस पार्टी की सदस्यता लेने के बाद लवली ने कहा कि मेरे लिए कोई खुशी का निर्णय नहीं था बीजेपी को ज्वाइन करना।

 

Categories: India