राजनीति में झूठ ज्यादा देर नहीं चलता, लोग अब कांग्रेस को याद करने लगे हैं: शीला

राजनीति में झूठ ज्यादा देर नहीं चलता, लोग अब कांग्रेस को याद करने लगे हैं: शीला

दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित ने एक बार फिर बीजेपी सरकार के वादों को लेकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि राजनीति में झूठ ज्यादा देर तक नहीं चलता है।

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, अब लोग कांग्रेस को याद करने लग गए हैं। कांग्रेस जो कहती थी, वह करती थी या करने के बाद कहती थी। ऐसा नहीं था कि केवल कहती थी। उन्होंने कहा कि आप खुद ही देख लीजिए..2 जी, थ्रीजी सब झूठा निकल गया।

कांग्रेस नेता शीला दीक्षित ने सोमवार को मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि राजनीति में ऊंच नीच जरूरी चलती है, लेकिन मेरा यह मानना है कि राजनीति में झूठ ज्यादा देर नहीं चलता। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ‘वक्ता-प्रवक्ता’ बहुत अच्छे हैं। किंतु जमीन पर कुछ नहीं दिखाई देता। वह जिस तरह के विकास की बात करते हैं, वह तो कहीं दिखाई नहीं पड़ता। बुलेट ट्रेन, जीएसटी, नोटबंदी..आखिर इससे हल क्या हुआ? जीएसटी में लोगों को अभी तक कुछ समझ में नहीं आ रहा है। कुल मिलाकर जिस तरह उम्मीदें बनी थीं, वह पूरी नहीं हुई।

क्या कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अब इतने परिपक्व हो गए हैं, कि कांग्रेस को बेहतर ढंग से चला सके और पीएम मोदी का मुकाबला कर सकें? इस सवाल पर शीला ने कहा, ‘बिल्कुल हो गए हैं। हमें यह समझना होगा कि परिवक्वता कोई ऐसी चीज नहीं कि दरवाजा खोला या पेच घुमाया और यह आ गई। यह आती है अनुभव से। उन्हें दिन प्रतिदिन अनुभव हो रहा है और अच्छी बात यह है कि वह इसका फायदा उठा रहे हैं।’

उन्होंने कहा, मुझे पूरा विश्वास है कि जिस प्रकार बीजेपी की सरकार चल रही है और जिस तरह लोगों का विश्वास उसके प्रति कम होता जा रहा है, कांग्रेस राहुल गांधी के नेतृत्व में जरूर उभर कर आएगी।

पार्टी में युवा चेहरों के बारे में उनकी सोच के बारे में पूछने पर शीला ने कहा कि पिछली लोकसभा में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की सरकार में कई युवा मंत्री उभर कर आए थे। पार्टी में कई युवा लोग जैसे ज्योतिरादित्य सिंधिया, सचिन पायलट, रणदीप सुरजेवाला आदि, बहुत नये ढंग से सोचते हैं। उनकी एकदम नई सोच है। अब उन्हें कहां और कैसे इस्तेमाल किया जाए, यह हमारे लिए एक चुनौती साबित होगा। इस चुनौती को पूरा भी किया जाएगा।

 Courtesy: Outlook
Categories: India

Related Articles