नीरव मोदी ने PNB को लिखा ख़त, कहा-मैं नहीं चुकाऊंगा लोन…अब क्या करेगी सरकार?

नीरव मोदी ने PNB को लिखा ख़त, कहा-मैं नहीं चुकाऊंगा लोन…अब क्या करेगी सरकार?

मुंबई। देश के दूसरे सबसे बड़े बैंक पीएनबी महाघोटाले का मुख्य आरोपी नीरव मोदी ने बैंक का लोन साफ चुकाने से माना कर दिया है। उसने पीएनबी को लिखे ख़त में कहा है कि इस मामले को सार्वजनिक करके उससे बकाया राशि वसूलने के सारे रास्ते बंद कर लिए हैं।

नीरव मोदी का कहना है कि इस बात का खुलासा होने से उसके बिजनेस को काफी नुकसान हुआ है जिसकी वजह से वह रकम चुकाने में असमर्थ है। साथ ही उसने यह भी दावा किया है कि बैंक जितनी रकम लोन कि बता रहा है वो उससे भी कम है।  मोदी ने बीते 15/16 फरवरी को बैंक मैनेजमेंट को लिखे पत्र में अपने इरादों के बारे में बता दिया है।

नीरव मोदी ने कहा कि ’13 फरवरी को की गई मेरी पेशकश के बावजूद बैंक ने जानकारी 15 फरवरी को सार्वजनिक कर दी। बैंक की इस कार्रवाई ने मेरे ब्रांड और मेरे कारोबार को बर्बाद कर दिया है, जिसके कारण अब बकाया राशि वसूलने की बैंक की क्षमता सिमट कर रह गई है। पत्र में नीरव ने कहा है कि उसके पास 5,000 करोड़ रुपये से भी कम का बकाया है।

अब इस ख़त के बाद यह तो साफ हो गया है नीरव अब पैसा लौटाना नहीं चाहता है। अब देखना है कि इस ख़त के बाद सरकार कौन सा रास्ता अपनाती है। वो इस मामले को लेकर कोर्ट जाती है या फिर प्रत्यर्पण संधि के जरिया नीरव को देश वापस लेकर आती है।

सोमवार को भी हुयी छापेमारी 

बैंक पीएनबी ने बीते 14 फरवरी को स्टॉक एक्सचेंज को जानकारी दी थी कि मुंबई के ब्राडी हाउस शाखा में करीब 11,500 करोड़ रूपए का घोटाला हुआ है।इसके बाद से ही नीरव के खिलाफ इडी की कार्रवाई शुरू है। सोमवार को भी ईडी-सीबीआई ने देशभर में कई जगह छापेमारी की। मुंबई, सूरत, पुणे समेत कुल 37 जगहों पर छापेमारी की गई थी। वहीँ सुरक्षा एजेंसियों को पता चला है कि इस महाघोटाले के मास्टरमाईंड इस वक़्त दुबई में छिपा हुआ है।

अब तक की कार्रवाई

ईडी ने अब तक मामले में 5674 करोड़ रुपये के हीरे, सोने के जेवर और बेशकीमती रत्न जब्त किए हैं। वहीँ कर चोरी की जाँच में मेहुल चोकसी और अन्य के नौ बैंक खातों से लेन-देन पर कल रोक लगा दी थी। नीरव की 29 संपत्तियां कुर्क कर ली गई हैं और 105 बैंक के लेन देन रोक दिए गए हैं।

कौन है नीरव मोदी

फोर्ब्स इंडिया की 2013 की अमीर व्यक्तियों की सूची में शामिल नीरव को पत्रिका ने तीसरी पीढ़ी के हीरे का कारोबारी बताया है। उनका पालन-पोषण बेल्जिम में हुआ और व्हार्टन से निकाले जाने पर 1990 में वह भारत आए और आखिरकार दिल्ली, मुंबई, न्यूयार्क, हांगकांग, लंदन और मकाऊ में 16 स्टोर के साथ नीरव मोदी ब्रांड बन गए।  48 वर्षीय नीरव  दुनिया की डायमंड कैपिटल की जाने वाली बेल्जियम के एंटवर्प शहर में मशहूर डायमंड ब्रोकर परिवार से संबंध रखते हैं। इसके अलावा वे ज्वेलरी डिजाइनर 2।3 अरब डॉलर के फायरस्टार डायमंड के संस्थापक भी हैं।

उनके बारे में कहा जाता है कि दुनिया की कई मशहूर हस्तियां उनके ग्राहकों की फेहरिस्त में शामिल हैं। इन लोगों में केट विंस्लेट, रोजी हंटिंगटन-व्हाटली, नाओमी वॉट्स, कोको रोशा, लीजा हेडन और ऐश्वर्या राय जैसे भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय अभिनेत्रियां शामिल हैं।

Courtesy: /puridunia

Categories: India

Related Articles