पीएनबी, रोटोमैक घोटाला: सरकार को 7 दिनों में 30 हजार करोड़ का नुकसान

पीएनबी, रोटोमैक घोटाला: सरकार को 7 दिनों में 30 हजार करोड़ का नुकसान
चेन्नै
पंजाब नैशनल बैंक और रोटोमैक फ्रॉ की वजह से सरकार को पिछले सात दिनों में 30,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। ऐसा पब्लिक सेक्टर बैंकों में सरकारी निवेश की वैल्यू घटने की वजह से हुआ है।
प्राइम डेटाबेस के मुताबिक, 13 फरवरी को पीएनबी बैंक फ्रॉड की घोषणा के बाद से सरकार, इंश्योरेंस और म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री को बैंकिंग सेक्टर में 44,000 करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है।
सार्वजनिक बैंकों में सरकार की संपत्ति 10 फीसदी नुकसान के बाद बाद 2.9 लाख करोड़ रुपये से घटकर 2.6 लाख करोड़ हो गई है। इंश्योरेंस इंडस्ट्री की 40 से अधिक बैंकों में 5-15 फीसदी हिस्सेदारी है और इसकी संपत्ति 6 फीसदी नुकसान के साथ 1.14 लाख करोड़ रह गई है। म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का बैंकिंग पोर्टफोलियो 4 फीसदी सिकुड़ गया है।
अकेले पंजाब नैशनल बैंक में सरकार की 57 फीसदी से अधिक हिस्सेदारी है और इसके शेयरों में आई गिरावट की वजह से संपत्ति 28 फीसदी कम हो गई। गौरतलब है कि अरबपति जूलर नीरव मोदी और उनके मामा मेहुल चौकसीद्वारा पंजाब नैशनल बैंक में 11,300 करोड़ रुपये के घोटाले का पर्दाफाश होने के बाद से पीएनबी के शेयरों में भारी गिरावट आई है।
Categories: India

Related Articles