बिहार: भागलपुर में सांप्रदायिक हिंसा मामले में मोदी सरकार में मंत्री अश्विनि चौबे के बेटे पर FIR दर्ज, इलाके में इंटरनेट बंद

बिहार: भागलपुर में सांप्रदायिक हिंसा मामले में मोदी सरकार में मंत्री अश्विनि चौबे के बेटे पर FIR दर्ज, इलाके में इंटरनेट बंद

बिहार के भागलपुर में शनिवार (17 मार्च) शाम को फैले सांप्रदायिक तनाव के बाद नाथनगर इलाके में फिलहाल शांति है। पुलिस का कहना है कि अब हालात पूरी तरह से सामान्य हो गए हैं। हालांकि प्रशासन द्वारा एहतियात के तौर पर फिलहाल इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया है, जो आज शाम तक चालू होने की संभावना है। पुलिस लोगों को अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील कर रही है। इस बीच इस मामले में केंद्रीय मंत्री अश्विनि चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत के खिलाफ नाथनगर में एफआईआर दर्ज हुई है।

इस बीच शनिवार को हुए दो गुटों के बीच भिड़ंत मामले में नाथनगर थाना में दो एफआईआर दर्ज किया गया है। नाथनगर में हुए उपद्रव मामले में पुलिस की ओर से थाने में दर्ज कराए गए एक एफआईआर में केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता अर्जित शाश्वत चौबे समेत कई बीजेपी नेताओं को आरोपी बनाया गया है।

पुलिस ने इस मामले में दो एफआईआर दर्ज की हैं। एक मामला बिना इजाजत जुलूस निकालने का है। वहीं, दूसरा केस उपद्रव मचाने का है। पहली मामले में आठ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। इनके नाम हैं- अरिजीत चौबे, देवकुमार पांडे, अनुपलाल साह, प्रणव साह, अभय घोष सोनू, प्रमोद शर्मा, निरंजन सिंह और संजय भट्ट शामिल हैं। इन पर बगैर इजाजत जुलूस निकालने का आरोप है। बता दें कि अरिजित केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे हैं।

इस मामले में दूसरी एफआईआर उपद्रव मचाने वाले करीब 500 अज्ञात लोगों के खिलाफ लिखी गई है। इनके खिलाफ खिलाफ मारपीट, पत्थरबाजी, फायरिंग व सांप्रदायिक सदभावना को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सांप्रदायिक हिंसा और तनाव बीजेपी, आरएसएस और बजरंद दल के कार्यकर्ताओं के भड़काऊ नारेबाजी की वजह से हुई। इस शोभा यात्रा जुलूस का नेतृत्व केंद्रीय राज्य मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अरिजीत शाश्वत चौबे ही कर रहे थे।‘जनता का रिपोर्टर’ से बातचीत में भागलपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ने केंद्रीय मंत्री के बेटे पर एफआईआर दर्ज किए जाने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। फिलहाल अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि इलाके में इस वक्त पूरी तरह से शांति है और आज रात तक इंटरनेट सेवा भी शुरू कर दिया जाएगा।

Categories: Crime

Related Articles