झारखंड में बीजेपी नेताओं ने शुरू की बगावत, बीजेपी को लगा झटका

झारखंड में बीजेपी नेताओं ने शुरू की बगावत, बीजेपी को लगा झटका

झारखंड में पहली बार भाजपा सरकार द्वारा सूबे में दलीय आधार पर नगर निकाय चुनाव की घोषणा करना उसके गले की फांस बनता नजर आ रहा है। गुमला में मंगलवार को जैसे ही पार्टी द्वारा नगर परिषद अध्यक्ष के रूप में राजू कच्छप व उपाध्यक्ष के रूप में मुनेश्वर साहु के नामों की घोषणा हुई पार्टी में बगावत शुरू हो गई।

 

पार्टी में उम्मीदवारी का दावेदारी कर रही शकुंतला उरांव व अमित पोद्दार ने निर्दलीय नामांकन करने का निर्णय ले लिया है। शकुंतला उरांव भाजपा प्रदेश एसटी मोर्चा की सदस्य हैं जबकि अमित पोद्दार राज्य सभा सांसद महेश पोद्दार के भतीजा व पार्टी सदस्य हैं। दोनों ने खुद को भाजपा कार्यकर्ताओं का समर्थित उम्मीदवार बताया।

भाजपा से बगावत कर निर्दलीय रूप से नामांकन करने में लगे इन दोनों उम्मीदवारों के साथ काफी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे। भाजपा कार्यकर्ताओं ने इसी टीम को वास्तविक भाजपा बताया। पूर्व जिलाध्यक्ष विजय मिश्रा ने कहा कि कार्यकर्ताओ के सहयोग से ये लोग चुनाव जीतेंगे। वहीं वरिष्ठ भाजपा नेता विनोद कुमार ने कहा कि जिन लोगों को टिकट मिला है वह संगठन का फैसला नहीं है बल्कि मुख्यमंत्री रघुवर दास द्वारा थोपा गया निर्णय है।

 

पहले से कई राज्यो में बीजेपी अपने उपचुनाव में हार को लेकर परेशान है। वहीं नगर निकाय चुनाव में उम्मीदवारों की घोषणा के बाद से जिस तरह से पार्टी में बगावत हो रही है उससे निकाय चुनाव जीतने में परेशानी तो होगी ही साथ ही 2019 में पार्टी को काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

Categories: India

Related Articles