राम के नाम पर दंगा भड़काने वाले भाजपाइयों से मुल्क खतरे में है, सभी साथ आएं और भाईचारा बचाएं

राम के नाम पर दंगा भड़काने वाले भाजपाइयों से मुल्क खतरे में है, सभी साथ आएं और भाईचारा बचाएं

देश में आस्था के नाम पर हिंसा करना एक बार फिर से चलन में हो गया है। जिस तरह से पिछले दिनों बिहार और पश्चिम बंगाल में धर्म के नाम पर या कहें राम के नाम दंगा भड़काने की कोशिश की गई उसे देख राजद से राज्यसभा सांसद मनोज झा ने निशाना साधते हुए कहा है कि लगता है कि 90 का वो दौर वापस आ गया जब राम के नाम दंगे भड़काए जाते थे।

मनोज झा ने सोशल मीडिया पर मौजूदा हालत के बारें ज़िक्र करते हुए लिखा नब्बे के दौर का एक स्लोगन राम और भारतीयता का प्रतिविम्ब था ‘कण कण में व्यापे हैं राम, मत भड़काओ दंगा लेकर उनका नाम’। हाँ! उसी वक्त से ‘सिर्फ आस्तीन पर राम’ को लेकर चलने वालों ने देश का माहौल दूषित करना शुरू कर दिया था। आइये सौहार्द बचाएं!

उन्होंने आगे कहा कि रोंगटे खड़े हो जाते हैं बिहार की परिस्थितियों को देखते हुए। पूरी कानून व्यवस्था अर्जित शाश्वत चौबे के सामने सरेंडर।पत्रकार की हत्या हो रही है। बिहार में कानून पंगु हो गया है”।

Courtesy: boltaup

Categories: India

Related Articles