राहुल गांधी ने बाबा साहेब की टूटी प्रतिमाओं की तस्वीरों से पीएम को अंबेडकर प्रेम के दावों का दिखाया आइना

राहुल गांधी ने बाबा साहेब की टूटी प्रतिमाओं की तस्वीरों से पीएम को अंबेडकर प्रेम के दावों का दिखाया आइना

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाबा साहेब अंबेडकर प्रेम की सच्चाई कुछ तस्वीरों के जरिए सामने रखी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी अब लगातार बाबा साहेब अंबेडकर का नाम जप रही है। पीएम तो यहां तक कह रहे हैं कि जितना सम्मान उन्होंने बाबा साहेब को दिया उतना किसी ने नहीं दिया। उनके इसी दावे को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चुनौती दी है। उन्होंने कई राज्यों में बाबा साहेब की प्रतिमाओँ को तोड़े जाने की तस्वीरें पोस्ट करते हुए बीजेपी और संघ की विचारधारा पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि, “मोदीजी, जिस दमनकारी विचारधारा से आप आते हैं वो दलितों और बाबासाहेब का सम्मान कभी कर ही नहीं सकती| भाजपा/RSS विचारधारा द्वारा बाबासाहेब के सम्मान के कुछ उदाहरण…”

इस ट्वीट के साथ कांग्रेस अध्यक्ष ने जो तस्वीरें शेयर की हैं उनमें उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु और उत्तराखंड में बाबा साहेब की तोड़ी गई प्रतिमाओं के चित्र हैं। राहुल गांधी ने दलितों के मुद्दे पर भी प्रधानमंत्री पर निशाना साधा है। गौरतलब है कि हाल ही में एससी-एसटी एक्ट में बदलावों के खिलाफ दलितों ने भारत बंद का आव्हान किया था। इस बंद के दौरान हिंसक वारदातें हुई और सबसे ज्यादा हिंसा बीजेपी शासित राज्यों में हुई। इतना ही नहीं तस्वीरों और वीडियो से यह भी पता चला कि हिंसा फैलाने में बीजेपी कार्यकर्ता और नेता शामिल थे। पुलिस ने कई बीजेपी नेताओं के खिलाफ मामले भी दर्ज किए हैं।

लेकिन, बीजेपी और प्रधानमंत्री दलितों को रिझाने की कोशिशें तो कर रहे हैं, वहीं सुप्रीम कोर्ट में आए एससी-एक्ट के बारे में उनकी सरकार के मंत्री कहते हैं कि केंद्र सरकार तो इस केस में पार्टी ही नहीं थी। वोटरों को रिझाने के लिए एक तरफ बीजेपी अध्यक्ष केंद्रीय मंत्री के साथ ओडिशा में दलित के घर भोजन करते हैं तो प्रधानमंत्री समुद्री आकर्षण विकसित होने के लिए बाबा साहेब अंबेडकर का नाम लेते हैं। हाल ही में प्रधानमंत्री ने एक आयोजन के बाद ट्वीट किया था कि जितना सम्मान हमारी सरकार ने बाबा साहेब दिया उतना किसी ने नहीं दिया।

गुरुवार को भी नेशनल मैरीटाइम डे यानी राष्ट्रीय समुद्री दिवस की शुभकामनाएं देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि समुद्री क्षेत्र को आकर्षक बनाने के सरकार के प्रयास दलितों के मसीहा बी.आर. आंबेडकर से प्रेरित है। उन्होंने ट्वीट करके कहा, “बाबा साहेब ने ही जलशक्ति, जलमार्गो, सिंचाई, नहरों और बंदरगाहों को सर्वाधिक महत्व प्रदान किया था. इस क्षेत्र में उनका काम भारत के लोगों के लिए भविष्योन्मुखी रहा है.”

Courtesy: navjivanindia

Categories: India

Related Articles