सीरिया के खिलाफ अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन एकसाथ, हो चुकी है जंग की शुरुआत

सीरिया के खिलाफ अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन एकसाथ, हो चुकी है जंग की शुरुआत

दमिश्क। सीरिया के खिलाफ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मिसाइल हमले के आदेश दिए हैं। इस जंग में अमेरिका, फ्रांस व ब्रिटेन एकसाथ आ गए हैं। सीरिया में केमिकल हमले के जवाब में अमेरिका ने उस पर हमला करने का फैसला किया है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक सीरिया की राजधानी दमिश्क में आज अमेरिका द्वारा लगभग 6 हवाई हमले किए गए। इन धमाकों से सीरिया दहल उठा।

 

ट्रंप ने व्हाइट हाउस से दिए हमले के आदेश
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस से टीवी संबोंधन में हमले के आदेश दिए। उन्होंने कहा कि मैंने अमेरिका की सेनाओं को सीरिया के तानाशाह बशर अल-असद के रसायनिक हथियारों के ठिकानों पर हमले करने का आदेश दिया है।

वहीं ब्रिटेन की प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने ब्रिटेन की सेनाओं को सीरिया के रासासनिक हथियारों के ठिकानों को नष्ट करने के लिए हमले करने का आदेश दिया है।

सीरिया पर इस हमले के बाद यहां के राष्ट्रपति बशर अल असद ने ट्वीट किया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि अच्छी आत्माओं को दबाया नहीं जा सकता है। इस बीच संयुक्त राष्ट्र के लिए रूसी दूत वसिली नेबेन्ज़िया ने चेतावनी दी है कि अमेरिका के सीरिया पर हमले करने से रूस और अमेरीका के बीच युद्ध के हालात बन सकते हैं। उन्होंने कहा कि वो किसी भी तरह की संभावना से इनकार नहीं करते।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उन्होंने 07 अप्रैल को सीरिया में संदिग्ध जहरीली गैस के रासायनिक हमलों में मारे गए 60 लोगों की मौत का बदला लेने के लिए सीरिया पर हमले का आदेश दिया है।

Categories: International