प्रधानमंत्री मोदी का 56 इंच का सीना बीजेपी शासित राज्यों में क्यों नजर नहीं आता, जहाँ क्रूर बलात्कार हो रहे हैं : तेजस्वी यादव

प्रधानमंत्री मोदी का 56 इंच का सीना बीजेपी शासित राज्यों में क्यों नजर नहीं आता, जहाँ क्रूर बलात्कार हो रहे हैं : तेजस्वी यादव

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने देश में हो रहे बलात्कार की घटनाओं पर एक अलग तरह का बयान देकर लोगों का ध्यान खींचा है। तेजस्वी ने पीएम मोदी के कार्यकाल को ‘मेक इन इंडिया’ से होते हुए ‘रेप इन इंडिया’ बताया है।

उत्तर प्रदेश के उन्नाव और जम्मू के उधमपुर में गैंगरेप की घटनाओं के बाद जिस तरह से भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के तरफ से बयान आ रहे हैं वो भाजपा की तरफ एक बार देखने को मजबूर कर रहे हैं कि बलात्कार जैसी घटना में उसके नेता इतने असंवेदनशील कैसे हो सकते हैं?

तेजस्वी यादव ने ट्विटर पर लिखते हुए कहा कि “प्रधानमंत्री मोदी का 56 इंच का सीना भाजपा शासित राज्यों में क्यों नजर नहीं आता, जहाँ क्रूर बलात्कार हो रहे हैं।”

भाजपा की सभी महिला सांसद, विधायक और मंत्री बलात्कार की घटनाओं पर क्यों चुप्पी साधे हुई हैं? वे महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराध पर चयनात्मक, नकारात्मक और धार्मिक दृष्टिकोण क्यों अपना रही हैं?

लेकिन शुक्रवार को इन घटनाओं पर जब पत्रकारों ने जब स्मृति ईरानी से सवाल किया तो वो बचकर अपनीं गाड़ी में बैठ गईं, वहीं भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने असम में एक बच्ची से रेप का मामला उठाकर उन्नाव-कठुआ मामलों से इसकी तुलना की है। भाजपा ने उन्नाव मामले में अपने विधायक को एक बार फिर दोषी नहीं मानते हुए उसे निजी रंजिश का मामला बताने की कोशिश की है। सुषमा स्वराज अभी तक खामोश हैं।

बलात्कार के मामलों में भाजपा के लोगों के खिलाफ इतनी बातें सामने आने के बावजूद भाजपा अपने नेताओं के साथ खड़ी दिख रही है। गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर के कठुआ में 8 साल की बच्ची की गैंगरेप के बाद जघन्य हत्या हुई है। वहीं उत्तरप्रदेश के उन्नाव में एक लड़की के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है। दोनों ही मामलों में भाजपा के नेता राजनीति करते नज़र आ रहे हैं।

बता दें कि तेजस्वी यादव ने मीनाक्षी लेखी के बयान पर ट्वीट किया कि दलित, अल्पसंख्यक और महिलाएं भगवान की सुंदर रचनाएँ हैं। अगर भाजपा मुनुष्यों का सम्मान नहीं कर सकती, अगर वो बलात्कारियों की आलोचना नहीं कर सकती तो न तो वो मानवता में यकीन रखती है और न ही भगवान में।

 

Courtesy: boltaup.

Categories: India

Related Articles