मरने के बाद भी मासूम आसिफा को नोंच रहे दरिंदे ! BJP सदस्य बता रहे ‘विक्रम राजपूत’ के अश्लील कमेंट पढ़कर शर्म आ जाएगी

मरने के बाद भी मासूम आसिफा को नोंच रहे दरिंदे ! BJP सदस्य बता रहे ‘विक्रम राजपूत’ के अश्लील कमेंट पढ़कर शर्म आ जाएगी

जहां एक तरफ देश के हर कोने से आसिफा के लिए इंसाफ की मांग की जा रही है। दिल्ली की सड़कों पर हर रोज आसिफा के लिए प्रदर्शन और कैडल मार्च किए जा रहे हैं। आसिफा के याद में लेख, कविता, पेंटिंग बनायी जा रही है।

वही दूसरी तरफ कुछ ऐसे भी बेशर्म लोग है जो आठ साल की बच्ची के साथ हुए गैंगरेप का जश्न मना रहे हैं। ऐसे लोग सिर्फ इस बात से खुश हैं कि आसिफा मुस्लिम थी। पिछले कुछ सालों में देश ने हिंदू-मुस्लिम वाले जहर को अपने अंदर उतार लिया है।

अब अपराध को हिंदू-मुस्लिम के चश्मे से देखा जा रहा है। लेकिन आठ साल की बच्ची के साथ हुए गैंगरेप को अगर कोई हिंदू-मुस्लिम चश्मे से देखता है तो वो इंसान नहीं ही हो सकता। एक फेसबुक यूजर हैं जिनका नाम विक्रम सिंह राजपूत है।

इनकी प्रोफ़ाइल कहती है कि ये भारतीय जनता पार्टी में हैं। पोस्ट भी इस बात के गवाही दे रहे हैं कि ये बीजेपी को लेकर बहुत भावुक हैं। योगी आदित्यना को लेकर विक्रम ने कई पोस्ट डाले हैं। इतना ही नहीं इनका ये भी मानना है कि ये राजपूत है और इसलिए लोगों को इनसे डरना चाहिए। कूल मिलाकर विक्रम सिंह राजपूत महाजातिवादी, हिंसक हिंदू टाइप का व्यक्ति है।


मामला ये है कि विक्रम ने आसिफा को लेकर बेहद ही शर्मनाक कमेंट किया है जो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। जिस पोस्ट पर विक्रम ने आसिफा के लिए गाली लिखी है वो पोस्ट तो नहीं मिल रहा लेकिन विक्रम द्वारा किए गए कमेंट का स्क्रीनशॉट हर जगह मौजूद है।

विक्रम ने अपने पहले कमेंट में लिखा है कि i love you asifa और दूसरे कमेंट में लिखा है वो हम लिख भी नहीं सकते हैं। लेकिन इतना जरूर बता सकते हैं कि आठ साल की आसिफा के साथ हुए गैंगरेप से विक्रम बहुत खुश है। इससे ज्यादा शर्मनाक और क्या हो सकता है?

एक बच्ची के साथ हुए गैंगरेप पर देश के कुछ लोग खुशी मना रहे हैं। इस बदलाव को भी मोदी सरकार को अपने उपलब्धियों में गिनना चाहिए। अगर ऐसा नहीं है तो विक्रम पर जल्द से जल्द कार्रवाई होनी चाहिए। पूरा सोशल मीडिया विक्रम द्वारा किए कमेंट के स्क्रीनशॉट से पटा पड़ा है।

Courtesy: boltaup.

Categories: India

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*