कठुआ केस की सुनवाई आज से, पीड़िता की वकील ने कहा- मुझे भी मिल रही हैं रेप की धमकियां

कठुआ केस की सुनवाई आज से, पीड़िता की वकील ने कहा- मुझे भी मिल रही हैं रेप की धमकियां

कठुआ गैंगरेप केस की सुनवाई आज से शुरु हो रही है। इस बीच पीड़िता की वकील दीपिका राजावत ने कहा है कि उन्हें हत्या और रेप की धमकियां मिल रही हैं।

इंसानियत को शर्मसार कर देने वाले कठुआ गैंगरेप केस का मुकदमा आज यानी सोमवार से शुरु हो रहा है। यह मुकदम है एक 8 साल का मासूम से कई दिनों तक सामूहिक बलात्कार और फिर उसकी हत्या कर देने का। इस मामले में पीड़िता के परिवार की तरफ से मुकदमे की पैरवी कर रही वकील दीपिका राजावत को भी धमकियां मिल रही है। उनका कहना है कि, “मुझे नहीं पता कि मैं कब तक जिंदा रहूंगी। मेरे साथ दुष्कर्म हो सकता है, मेरी हत्या भी हो सकती है। मुझे कल धमकी मिली थी कि तुम्हें माफ नहीं करेंगे।’ एक न्यूज चैनल से बातचीत में उन्होंने कहा कि वह सोमवार को सुप्रीम कोर्ट को बताएंगी कि उनकी जान खतरे में है।

राजावत ने कहा कि, ”मुझे उन्होंने अलग-थलग कर दिया है। कोर्ट में प्रैक्टिस करने तक से रोका जा रहा है। मैं नहीं जानती कि आगे कैसे गुजारा करूंगी। मुस्लिम लड़की के लिए इंसाफ की लड़ाई लड़ने पर मुझे हिंदू विरोधी कहकर समाज से निकालने की बातें हो रही हैं।”उधर, बार काउंसिल ऑफ इंडिया ने कहा है कि वकीलों से जुड़े विवाद की जांच के लिए काउंसिल ने एक पैनल बनाया है। जम्मू-कश्मीर बार एसोसिएशन के वकीलों पर आरोपियों का समर्थन करने का आरोप है। आरोप है कि इन वकीलो ने 10 अप्रैल को इस मामले में पुलिस को चार्जशीट पेश करने से रोका था।

चूंकि यह मामला बेहद संवेदनशील है और इस केस को शुरु से ही सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश की जा रही है, इसलिए महबूबा सरकार ने पैरवी के लिए सिख समुदाय के दो स्पेशल पब्लिक प्रॉसीक्यूटर नियुक्त किए हैं।उधर दुष्कर्म के आरोपियों के समर्थन में हुई रैली में जाकर विवादों में घिरे बीजेपी के दोनों मंत्रियों के इस्तीफे मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने रविवार को मंजूर कर राज्यपाल एन एन वोहरा के पास भेज दिए।

Courtesy: navjivanindia.

Categories: India

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*