दलित प्रेम का ढोंग कर रही भाजपा अब होगी बेनकाब, दलितों के गांवों में बसपा लगाएगी चौपाल : मायावती

दलित प्रेम का ढोंग कर रही भाजपा अब होगी बेनकाब, दलितों के गांवों में बसपा लगाएगी चौपाल : मायावती

2014 में बीजेपी ‘चाय पर चर्चा’ करती थी और अब चौपाल पर चर्चा करने लगी है।

इस ‘चौपाल’ राजनीतिक का सबसे व्यापक रूप उत्तर प्रदेश में देखने को मिल रहा है।

पीएम मोदी के आदेश पर चलाए जा रहे इस ‘चौपाल’ राजनीतिक को ‘ग्राम स्वराज अभियान’ का नाम दिया गया है।

इसके तहत बीजेपी नेताओं को दलित बाहुल्य क्षेत्रों में चौपाल लगाकर दलितों को असहाय, मजबूर बताना होता है। फिर खुद को उनका मसीहा घोषित करना होता है। इसके बाद वहीं किसी दलित के घर खाने खाने का नाटक करना होता है।

अब तक इस चौपाल राजनीतिक का फायदा बीजेपी अकेले उठा रही थी, लेकिन अब बीजेपी को टक्कर देने के लिए मायावती की पार्टी भी मैदान में उतर रही हैं। बसपा प्रमुख मायावती ने घोषणा की है उनकी पार्टी दलित बाहुल्य गांवों में चौपाल लगाएंगी।

बहुजन समाज पार्टी के चौपाल का मकसद होगा भाजपा के दलित प्रेम का सच सामने लाना। मायावती द्वारा लगाई गई चौपाल में भाजपा सरकार द्वारा किए गए दलित विरोधी कामों की जानकारी दी जाएगी।

इस चौपाल में जिला कोऑर्डिनेटर के साथ क्षेत्रीय बसपा नेता शामिल होंगे। बताया जा रहा है कि मायावती के इस चौपाल कार्यक्रम की शुरुआत अगले महीने से होगी।

इतना ही नहीं इस चौपाल के माध्यम से बसपा अपने कार्यकाल के दौरान किए गए दलित हितों के कार्यों की जानकारी भी देगी।

मायावती का मानना है कि चौपाल के माध्यम से वह भाजपा के झूठे दलित प्रेम का पर्दाफाश कर सकेगी।

Courtesy: Boltaup

Categories: Politics

Related Articles