तूफान ने हिला दी ताज की नींव, 328 साल बाद पहली हुआ ताजमहल का ऐसा हाल-टूटने की कगार पर मीनारें

तूफान ने हिला दी ताज की नींव, 328 साल बाद पहली हुआ ताजमहल का ऐसा हाल-टूटने की कगार पर मीनारें
हाल ही में आए तूफान ने विश्व प्रसिद्ध ताजमहल को भी चोट पहुंच पाई है। खबर के मुताबिक देश के उत्तरी इलाके में बुधवार रात आए तूफान से ताजमहल की दो मीनारें हिल गईं और एक का दरवाजा टूट गया है।

खबर में आगरा के एक इतिहासकार के हवाले से बताया गया है कि पहली बार कुदरती कहर से ताज को नुकसान पहुंचा है। अप्रैल 2015 में आए भूकंप में भी इसे नुकसान नहीं हुआ था। खबर में दावा किया गया है कि ताज की मीनारें बाहर की ओर झुकी हैं।

ताकि मीनारें गिरें भी तो बाहर की ओर गिरें जिससे गुंबद को नुकसान न पहुंचे। खबर में बताया गया है कि तूफान से मीनार के ऊपरी हिस्से का दरवाजा उखड़ गया है लेकिन ज्यादा नुकसान नहीं हुआ। इसकी वजह बताई जा रही है कि हवा का रुख मीनार की ओर था।

इसके अलावा ताजमहल के साथ फतेहपुर सीकरी के ऐतिहासिक स्मारकों को भी खासा नुकसान हुआ है। खबर के मुताबिक फतेहपुर सीकरी में सलीम चिश्ती की दरगाह परिसर में बादशाही दरवाजे के बरामदे का छज्जा टूट गया। वहीं जनाना रोजा की दो बुर्जियों के छज्जे भी टूटे हैं। रंग महल के ऊपरी हिस्से के पत्थर गिरे हैं।

Courtesy: liveindia.

Categories: Regional
Tags: Taj Mahal

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*