कर्नाटक पर बोले हार्दिक पटेल, MLA खरीदने के लिए ‘अमित शाह’ ने 2 दिन मांगे थे ‘राज्यपाल’ ने 15 दिन दे दिए

कर्नाटक पर बोले हार्दिक पटेल, MLA खरीदने के लिए ‘अमित शाह’ ने 2 दिन मांगे थे ‘राज्यपाल’ ने 15 दिन दे दिए

बुधवार रात 11 बजे राज्यपाल वजुभाई ने नरेंद्रभाई की पार्टी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया। बी एस येदियुरप्पा कर्नाटक के 27वीं मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ले चुके हैं।

गुरुवार सुबह 9 बजे बी एस येदियुरप्पा ने दूसरी बार हुआ बिना बहुमत के शपथ ली। इतना ही नहीं राज्यपाल ने येदियुरप्पा को बहुमत साबित करने के लिए पूरे 15 दिन का वक्त भी दिया है।

सोशल मीडिया पर राज्यपाल वजुभाई वाला को बीजेपी का सच्चा सिपाही घोषित कर दिया गया है। वैसे बता दें कि राज्यपाल बनने से पहले वजुभाई बीजेपी और संघ के सच्चे सिपाही रह भी चुके हैं।

कर्नाटक में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला थी लेकिन कांग्रेस जेडीएस मिलकर बहुमत के आंकड़े को पार कर पा रहे थे। लेकिन फिर भी राज्यपाल ने बीजेपी को ही सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया।

राज्यपाल वजुभाई वाला के इस फैसले के बाद विवाद शुरू हो गया है। गुजरात अनामत आंदोलन के नेता हार्दिक राज्यपाल को बीजेपी का वफादार बताया है। हार्दिक पटेल ने #KillingDemocracy के साथ ट्वीट करते हुए लिखा है कि…

हार्दिक ने कांग्रेस को ईमानदार पार्टी बताते हुए अपने दूसरे ट्वीट में लिखा है कि ”कर्नाटक में BJP ने जो किया अगर ऐसा कोंग्रेस ने किया होता तो कब का BJP कर्नाटक को हिंसा की आग में झोंक देती। आज मुझे कांग्रेस की ईमानदारी और संवैधानिक सोच पर गर्व है। कांग्रेस को बेमानी करना नहीं आता, इसलिए चार राज्यों में ज़्यादा सीट होने के बावजूद भी सरकार नहीं बना पाए”

Courtesy: Boltaup

Categories: India

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*