विधायकों को धमकियां, उड़ान की इजाजत नहीं, क्या यही है लोकतंत्र: गुलाम नबी आजाद

विधायकों को धमकियां, उड़ान की इजाजत नहीं, क्या यही है लोकतंत्र: गुलाम नबी आजाद

कर्नाटक में सरकार बनाने को लेकर जारी सियासी उथल-पुथल के बीच कांग्रेस ने एक बार फिर केंद्र की भाजपा सरकार पर बेंगलुरु के रिजॉर्ट में रहने वाले विधायकों को धमकी देने का आरोप लगाया है। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि कोई भी संविधान पर भरोसा नहीं करता, लोगों को केवल न्यायपालिका पर ही विश्वास है।

कांग्रेस और जेडीएस द्वारा बीजेपी पर विधायकों की खरीद-फरोख्त की कोशिशों के आरोपों के बीच पार्टी के विधायकों को बचाने के लिए उन्हें बेंगलुरु के रिजॉर्ट से आधी रात को निकालकर बस से हैदराबाद के लिए रवाना किया। रात 12 बजे दोनों दलों के विधायकों को लेकर तीन बसें बेंगलुरू से हैदराबाद के लिए चली जो सुबह 9 बजे वहां पहुंची।

जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस और जेडीएस के विधायक पार्क हयात होटल पहुंचे थे, लेकिन वहां सभी के लिए कमरे उपलब्ध नहीं थे। ऐसे में कुछ को ताज कृष्णा होटल में शिफ्ट किया गया है।

विधायकों को धमकियां, उड़ान की इजाजत नहीं: गुलाम नबी आजाद

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने भाजपा पर विधायकों को धमकी देने का आरोप लगाते हुए कहा कि बेंगलुरु रिजॉर्ट में रहने वाले विधायकों को धमकी मिली, हम उन्हें हवाई अड्डे से केरल ले जाना चाहते थे लेकिन अनुमति नहीं दी गई थी, अंततः उन्हें सड़क से यात्रा करना पड़ा। क्या यह लोकतंत्र है? कोई भी संविधान पर भरोसा नहीं करता है, लोगों को केवल न्यायपालिका में विश्वास है।

फ्लाइट की परमिशन भी नहीं मिली

इससे पहले बेंगलुरु में मौजूद कांग्रेस की विधायक यशोमती ठाकुर ने भी कहा कि उनसे सारी पुलिस सुरक्षा वापस ले ली गई है। उन्होंने कहा, हमारे विधायकों को धमकी भरे फोन आ रहे हैं, फ्लाइट की भी परमिशन नहीं मिल रही है, क्या हम सच में लोकतंत्र में रह रहे हैं।

राहुल ने की देवगौड़ा से बात

कर्नाटक में लगातार बदलती परिस्थिति को देखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा से बात की। बताया जा रहा है कि दोनों के बीच करीब 10 मिनट बातचीत हुई।

रिजॉर्ट में घुस गए थे भाजपा नेता

कांग्रेस नेता रामलिंगा रेड्डी ने आरोप लगाया है कि कुछ बीजेपी नेता रिजॉर्ट में आ गए थे और विधायकों से बातचीत करने की कोशिश कर रहे थे। यही कारण है कि वह रिजॉर्ट छोड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह किसी भी तरह की सुरक्षा नहीं लेंगे, हम लोग जल्द ही यहां से जाएंगे लेकिन कहां जाएंगे ये तय नहीं है। उन्होंने बताया कि जो दो विधायक अभी यहां पर नहीं हैं वह हमारे टच में हैं।

Courtesy: outlook

Categories: India

Related Articles