पेट्रोल के दाम कम किए तो कल्याणकारी योजनाएं प्रभावित होंगी : गडकरी , लोग बोले- जैसे MLA खरीदना ?

पेट्रोल के दाम कम किए तो कल्याणकारी योजनाएं प्रभावित होंगी : गडकरी , लोग बोले- जैसे MLA खरीदना ?

24 मई को लगातार 11वें दिन भी पेट्रोल-डीजल की कीमत में बढ़ोतरी जारी रही। दिल्ली में पेट्रोल 23 पैसे और डीजल 19 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ। 14 मई से 24 मई के बीच पेट्रोल 2.77 रुपए और डीजल 2.60 रुपए प्रति लीटर महंगा हो चुका है।

इस तरह पेट्रोल की ताजा कीमत 77.47 रुपए प्रति लीटर और डीजल की 68.53 रुपये प्रति लीटर हो चुकी है। तेल की बढ़ती कीमतों से आम जनता तबाह है। लेकिन मोदी सरकार फिलहाल कोई राहत देने के मूड में नहीं है। केन्द्रीय मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता नितिन गडकरी ने साफ कहा है कि सरकार तेल कीमतों में कमी नहीं कर सकती।

23 मई को इंडियन एक्सप्रेस को दिए इंटरव्यू उन्होंने कहा कि ”ये न टाली जा सकने वाली आर्थिक ​​स्थिति है। ये बात सीधे वैश्विक अर्थव्यवस्था से जुड़ी हुई है। अगर हम पेट्रोल और डीजल को सस्ता बेचते हैं तो इसका मतलब है कि हमें इसे ऊंचे दामों पर खरीदकर उस पर देश में भारी सब्सिडी देनी होगी। लेकिन पेट्रोल और डीजल की कीमतों में सब्सिडी को बढ़ावा देना सरकार की समाज कल्याण की योजनाओं को प्रभावित कर सकता है।”

गडकरी ने कुछ योजनाओं के नाम भी गिनाए जैसे- उज्जवला योजना, ग्रामीण विद्युतीकरण प्रकिया, लोन के लिए मु्द्रा योजना… आदि

लेकिन सोशल मीडिया पर लोगों के सवाल कुछ अलग है। सोशल मीडिया यूजर The Lie Lame ने नितिन गडकरी से सवाल पूछते हुए लिखा है…

कल्याणकारी योजनाएँ, 
जैसे-
. MLA ख़रीदना
. निरव मोदी, चौकसी को विदेश पहुँचाना
. BJP का 1300 Cr का HQ बनाना
. RAFALE में धाँधली, अम्बानी को फ़ायदा
. SAAB डील में अड़ानी को फ़ायदा
. नोटबंदी कर BJP का चंदा बड़ाना
. जय शाह को 16000 गुना फ़ायदा
. पीयूष गोयल को फ़ायदा

Courtesy: Boltaup

Categories: India

Related Articles