कैराना-नूरपुर की जीत पर बोले अखिलेश यादव, कहा- यह ‘अहंकारी सत्ता’ के अंत की शुरूआत है

कैराना-नूरपुर की जीत पर बोले अखिलेश यादव, कहा- यह ‘अहंकारी सत्ता’ के अंत की शुरूआत है

कैराना लोकसभा और नूरपुर विधानसभा उपचुनाव में बीजेपी की करारी शिकस्त हुई है। कैराना सीट पर गठबंधन उम्मीदवार तबस्समु हसन ने जीत हासिल की तो वहीं नूरपुर सीट पर समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार नईम उल हसन ने विजय पताका लहराया।

नईम उल हसन ने जहां बीजेपी उम्मीदवार को 5678 वोटों से हराया, वहीं तबस्समु हसन बीजेपी उम्मीदवार मृगांका सिंह को करीब 49454 वोटों से शिकस्त दी।

इस जीत के बाद समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कैराना और नूरपुर में विपक्षियों की जीत किसानों, उपेक्षित, गरीबों और दलितों की जीत है। उन्होंने सभी विपक्षी पार्टियों को एक साथ आने और उपचुनाव में जीत सुनिश्चित करने के लिए शुक्रिया कहा।

सपा प्रमुख ने कहा कि किसानों से वादा किया गया था कि उनके कर्ज़ माफ कर दिए जाएंगे, लेकिन इसके बजाए उनकी जानें चली गईं। सरकार से नाराज़ मतदाताओं ने उपचुनाव में बीजेपी को सबक सिखा दिया। उन्होंने कहा कि मैं उन सभी अन्य राजनीतिक नेताओं का भी धन्यवाद करता हूं जो हमारी जीत के लिए एक साथ आकर खड़े हुए।

इसके साथ ही अखिलेश ने ट्विटर पर महागठबंधन को बधाई देते हुए बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने लिखा, “कैराना और नूरपुर की जनता, कार्यकर्ताओं, उम्मीदवारों व सभी एकजुट दलों को जीत की हार्दिक बधाई!

कैराना में सत्ताधारियों की हार उनकी अपनी ही प्रयोगशाला में, देश को बांटने वाली उनकी राजनीति की हार है। ये एकता-अमन में विश्वास करने वाली जनता की जीत व अहंकारी सत्ता के अंत की शुरूआत है”।

Courtesy: Boltaup

Categories: India

Related Articles