दिल्ली: सिर्फ 4 मिनट की देरी से पहुंचने पर UPSC परीक्षा केंद्र में नहीं मिला प्रवेश, हताश छात्र ने पंखे से लटककर की खुदकशी

दिल्ली: सिर्फ 4 मिनट की देरी से पहुंचने पर UPSC परीक्षा केंद्र में नहीं मिला प्रवेश, हताश छात्र ने पंखे से लटककर की खुदकशी

दिल्ली में रहकर संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की तैयारी कर रहे एक छात्र को अपने परीक्षा केंद्र पर पहुंचने में मात्र चार मिनट की देर हो गई, जिससे उसे यूपीएससी परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं दिया गया। इस बात से आहत होकर छात्र ने आत्महत्या कर ली। दरअसल, राजधानी के राजेंद्र नगर में रविवार को फंदा लगाकर जान देने वाले यूपीएससी छात्र के मामले की जांच में यह खुलासा हुआ कि चार मिनट की देरी से पहुंचने के कारण उसे पहाड़गंज स्थित परीक्षा में नहीं घुसने दिया गया था। इस बात से हताश होकर 28 वर्षीय वरुण सुभाष चंद्रन ने घर में पंखे से लटककर फांसी लगा ली थी।

रविवार को हुई यूपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा में छात्र पहाड़गंज में पहले गलत सेंटर पर पहुंच गया। वहां से फिर अपने सेंटर पर पहुंचने में देर हो गई। जिससे उसे परीक्षा सेंटर में प्रवेश नहीं दिया गया। परीक्षा के लिए उनका सेंटर पहाड़गंज स्थित गवर्नमेंट सर्वोदय बाल विद्यालय में पड़ा था। लेकिन अपने सेंटर पर जाने के बजाय वह पौने 9 बजे पहाड़गंज स्थित एक अन्य सेंटर कसेरू वाला में पहुंच गए। वहां उन्हें बताया गया कि वह गलत सेंटर पर आ गए हैं और उनका सेंटर सर्वोदय बाल विद्यालय में है।

 

तब वह दोबारा अपना सेंटर ढूंढते हुए 9.24 बजे सर्वोदय बाल विद्यालय पहुंचा तो उन्हें यह कहते हुए अंदर प्रवेश करने से मना कर दिया गया कि काफी देर हो चुकी है। क्योंकि छात्र को 9 बजकर 20 मिनट पर वहां पहुंचना था। उन्होंने सेंटर के गेट पर मौजूद पुलिसकर्मियों व सेंटर सुपरिटेंडेंट से काफी गुजारिश की। उन्हें यह भी बताया कि यह उनका अंतिम प्रयास है, लेकिन किसी ने नहीं सुनी। परेशान होकर रोते हुए वह घर आ गया और सुसाइड नोट लिखने के बाद अंदर से कमरे का दरवाजा बंद कर खुदकशी कर ली।

 

दैनिक जागरण के मुताबिक सुसाइड नोट में वरुण ने लिखा है कि मौत के लिए वह खुद जिम्मेदार हैं। किसी को दोषी न ठहराया जाए। मामले की जांच कर रही स्थानीय पुलिस छात्र के दोस्तों से भी घटना को लेकर पूछताछ कर रही है। दरअसल, परीक्षा शुरू होने का समय सुबह 9.30 था। यूपीएससी के नियम के मुताबिक परीक्षा शुरू होने से 10 मिनट पहले यानी 9.20 तक अभ्यर्थियों को हरहाल में परीक्षा सेंटर पर अपने कमरे में पहुंच जाने का होता है। वरुण सुभाष चंद्रन मात्र 4 मिनट की देरी से सेंटर के गेट पर पहुंचे थे।

Courtesy: jantakareporter

Categories: Crime

Related Articles